Menu

Follow by Email

Subscribe us Follow by Email

शेयर बाजार में काफी उठापठक देखने को मिलेंगी इस सप्ताह पढ़े आगे

मुंबई शेयर बाजार हो या फिर NSE निफ्टी निवेशक हों या व्यापारी, सभी  के लिए यह सप्ताह काफी महत्वपूर्ण है। यह आगे भी बाजार की दिशा तय करेगा। सोमवार को मतदान का अंतिम चरण होगा। उसके बाद एग्जिट पोल के आंकड़ों से हमें कुछ आश्चर्यजनक चीजें देखने को मिल सकती हैं। आंकड़ों के मोर्चे पर इस सप्ताह औद्योगिक उत्पादन सूचकांक और मुद्रास्फीति के आंकड़े आने हैं लेकिन सबसे महत्वपूर्ण चुनावों के नतीजे हैं जो शुक्रवार को आएंगे। बाजार विशेषज्ञों ने कहा कि शेयर बाजार के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण सप्ताह होने जा रहा है, क्योंकि 16 मई को पिछले एक महीने से जारी आम चुनाव के परिणाम आएंगे। राजनीति का ऊंट किस करवट बैठेगा, इसका पता तो 16 मई को चलेगा, लेकिन शेयर बाजार के हिलोरे मारने से ब्लूचिप शेयरों पर दांव लगाने वाले नेताओं की झोली पहले ही भरने लगी है। विदेशी संस्थागत निवेशकों सहित सभी निवेशकों को एक स्थायी सरकार बनने की उम्मीद है जिससे भारतीय शेयर बाजार के सूचकांक नित नई ऊंचाइयां छू रहे हैं और सेंसेक्स 23,000 के स्तर पर पहुंचने के करीब है।
जैसे जैसे एग्जिट पोल के आकडे आयेंगे वैसे ही बाजार की चल देखने को मिलेगी हालाँकि अनुमान यहीं लगाये जा रहे हैं की अबकी बार सरकार में फ़ेरबदल होने के पक्के आसार हैं हालाँकि असली परिणाम तो आने वाली 16 मई को ही पता लग पायेगा की जनता ने किसको सत्ता पे काबिज किया है
लेकिन ये सप्ताह इन्वेस्टर्स के लिए काफी लाभ देने वाला है यदि उसने सही रणनीति से काम किए
POLITICAL IFFECTS OF SHARE MARKET THIS WEEK

दूसरा मुख्य कारण बाजार में आने वाले रिजल्ट्स जैसे की वृहद आर्थिक मोर्चे पर सोमवार को औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े जारी होंगे। सम्मिलिट उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़े सोमवार को तथा थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़े गुरुवार को जारी होंगे। कंपनियों के नतीजे भी बाजार की दिशा तय करेंगे। इस सप्ताह जिन प्रमुख कंपनियों के नतीजे आने हैं उनमें पंजाब नेशनल बैंक, डा. रेड्डीज लैबोरेटरीज, टाटा स्टील, टेक महिन्द्रा, बजाज आटो और एनटीपीसी शामिल हैं। एंजल ब्रोकिंग के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक दिनेश ठक्कर ने कहा, जैसे चुनाव परिणाम का दिन नजदीक आ रहा है तो अनुकूल नतीजों की उम्मीद में बाजार में तेजी देखने को मिल रही है। निवेशकों को शेयरों में निवेश जारी रखना होगा क्योंकि आस्ति खंड में निवेश करने का यह यह बेहतरीन समय है। केन्द्र में स्थिर सरकार के आने की उम्मीद में शुक्रवार को बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 650 अंक की तेजी के साथ 23,000 अंक के महत्वपूर्ण स्तर को पहली बार लांघ गया। हालांकि, यह 23,000 अंक के स्तर से कुछ नीचे बंद हुआ। बीते सप्ताह सेंसेक्स 2.63 प्रतिशत की तेजी के साथ 22,994.23 अंक पर पहुंच गया।
 
Top