Menu

Follow by Email

Subscribe us Follow by Email

जानिए कौनसे विकल्प हैं सही व कैसे बनाये अपने जीवन को जॉब के साथ खुशहाल

मेडिकल, इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट जैसे स्थापित फील्ड से अलग कुछ करना चाहते हैं तो कॅरिअर के कुछ नए विकल्प आजमा सकते हैं, जहां बेहतर पैसा और प्रतिष्ठा दोनों मिल सकते हैं।
private sectors jobs 2014
दौर था जब कॅरिअर चुनने के लिए कॅरिअर काउंसलर की लिस्ट एमबीबीएस, इंजीनियरिंग, टीचिंग या आईएएस जैसे विकल्पों पर आकर खत्म हो जाती थी। बीते सालों में बदलती आर्थिक और टेक्नोलॉजी के विकास ने केवल नए फील्ड पैदा किये हैं, बल्कि उन क्षेत्रों में काम के लिए विशेष प्रतिभा की मांग भी उत्पन्न की है। दूसरी ओर आंकड़े भी इसी बात की पुष्ठी करते हैं कि जिस अनुपात में ग्रेजुएट्स की संख्या बढ़ रही है उसकी तुलना में रोजगार के अवसर काफी कम हैं। ऐसे में जरूरी हो जाता है कि  पारंपरिक क्षेत्रों के पीछे भागने की बजाय कुछ नया आजमाया जाए।

एग्रीकल्चर कंसल्टेंट
एग्रीकल्चरकंसल्टेंट किसानों तक नई कृषि तकनीकों और उत्पादों के इस्तेमाल आिर्थक फायदों की जानकारी पहुंचाने में मदद करते हैं। क्लाइंट्स को नए कृषि उत्पाद के बारे में समझाने के लिए ये फार्म वॉक्स, लेक्चर्स, चर्चाएं और उत्पाद की प्रदर्शनी आयोजित करवाते हैं। एग्रीकल्चर कंसल्टेंट्स की मांग ज्यादातर कृषि और बायोटेक्नोलॉजी क्षेत्र में होती है।
जरूरीस्किल्स : संबंधितिडग्री के साथ कम्युनिकेशन स्किल्स, अवलोकन क्षमता और कृषि से जुड़े पहलुओं की अच्छी जानकारी।
वेतन: 25,000 से 30,000 ‌‌रुपए प्रति माह

मेडिकल राइटर
मेडिकल राइटर्स की जरूरत साइंटिफिक डॉक्यूमेंट लिखने के अलावा डाटा इंटरप्रिटेशन और डाटा प्रजेंटेशन के लिए होती है। इन डॉक्यूमेंट्स में रेग्यूलेटरी और रिसर्च से संबंधित डॉक्यूमेंट, रोग - दवा संबंधी शैक्षणिक और प्रमोशनल दस्तावेज के साथ-साथ हेल्थकेयर वेबसाइट्स, मैग्जीन्स और जर्नल्स शािमल होते हैं। साइंस ग्रेजुएट्स के लिए मेिडकल राइिटंग एक नया विकल्प बनकर सामने आया है। फार्मास्यूटिकल्स, केपीओ, मीडिया, हेल्थकेयर वेबसाइट्स में इनकी जरूरत होती है।
जरूरीस्किल्स : बेहतरीनरिसर्च क्षमता के साथ प्रजेंटेशन स्किल्स, प्रोजेक्ट और टाइम मैनेजमेंट स्किल्स और लेखन में दिलचस्पी।
वेतन- 22,000 से 25,000 ‌‌रुपए प्रति माह

मेडीकल कोडर
किसीव्यक्ति के मेडिकल रिकार्ड्स की समीक्षा करना और डॉक्टर नर्स के नोट्स को देखकर मरीज को दी गई सुविधाओं को परखने के बाद कोड्स असाइन करने की जिम्मेदारी एक मेडिकल कोडर की होती है। इन कोड्स की मदद से मरीज हेल्थकेयर बेनेफिट्स का दावा कर सकता है। आईटी/बीपीओ, हॉस्पिटल/हेल्थकेयर, इंश्योरेंस जैसे क्षेत्रों में इन प्रोफेशनल्स के लिए अवसर उपलब्ध हैं।
जरूरीस्किल्स : मेडिकलबिलिंग और कोडिंग सॉफ्टवेयर की तकनीकी जानकारी, गणना करने की क्षमता के साथ फोकस्ड और जागरूक रहने का कौशल भी जरूरी।
वेतन- 20,000 से 25,000 ‌‌रुपए प्रति माह

क्लिनिकलरिसर्च एसोसिएट
क्लिनिकलरिसर्च एसोसिएट बनने के लिए रिसर्च में दिलचस्पी होना जरूरी है। यहां आपको क्लिनिकल ट्रायल्स का ट्रैक रखना होता है। क्लिनिकल रिसर्च एसोसिएट्स की मांग बायोटेक्नोलॉजी, फार्मास्यूटिकल्स और मेडिकल क्षेत्र में है।
जरूरीस्किल्स : अच्छेप्रशासनिक कौशल, कम्युनिकेशन स्किल्स के साथ मल्टी-टास्किंग होना और स्वतंत्र रूप से काम करने में दक्ष होना जरूरी है।
वेतन: 20,000 से 25,000 रुपए प्रति माह
एग्रीकल्चरकेमिस्ट
एग्रीकल्चरकेमिस्ट का काम विभिन्न कृषि उत्पादों का विकास करने के लिए रिसर्च का होता है। ये खाद्य उत्पादों में मौजूद पदार्थों और अणुओं की रासायनिक संरचना का परीक्षण भी करते हैं। इनकी मांग ज्यादातर कृषि, बायोटेक्नोलॉजी और फार्मास्यूटिकल क्षेत्र में होती है।
जरूरीस्किल्स : बेहतरीनकम्युनिकेशन स्किल्स, िरसर्च में रुचि और लॉजिकल रीजनिंग स्किल्स का होना जरूरी है।
वेतन- 20,000 से 25,000 ‌‌रुपए प्रति माह

आर्टक्रिटिक
आर्टिक्रटिक आिर्टस्ट्स के काम का आंकलन करता है और न्यूजपेपर्स, मैग्जीन न्यूज चैनल के माध्यम से इनकी समीक्षा करता है। इस काम के लिए आर्ट क्रिटिक के पास कला को समझने की शक्ति और रचनात्मक साेच का होना बेहद जरूरी है। कई आर्ट क्रिटिक्स आर्ट जर्नल्स और अन्य कला संस्थानों के लिए लिखते भी हैं।
जरूरीस्किल्स : रचनात्मकहोने के साथ-साथ भारत की आधुनिक और पारम्परिक कला की समझ, आर्ट हिस्ट्री की जानकारी और लेखन का हुनर होना आवश्यक है।
वेतन- 30,000 से 60,000 रुपए प्रति माह

आर्टथेरेपिस्ट
एकआर्ट थेरेपिस्ट, आर्ट के माध्यम से स्पेशल बच्चों और मानसिक समस्याओं से ग्रस्त लोगों को थेरेपी प्रदान करता है। वे विजुअल आर्ट मेकिंग, स्कल्पचर, पेंटिंग, म्यूजिक, ड्रामा और डांस स्टेप्स जैसे कई रचनात्मक तरीकों से लोगों को शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य लाभ पहुंचाते हैं।
जरूरीस्किल्स : बेहतर इंटरपर्सनल स्किल्स और समस्याओं का समाधान करने की क्षमता होना जरूरी है।
वेतन-30,000 से 50,000 रुपए प्रति माह

सोशल काउंसलर
सोशलकाउंसलर बनने के लिए हेल्थ, पर्यावरण समेत अन्य महत्वपूर्ण क्षेत्रों की जानकारी के साथ शहरी और ग्रामीण संरचना को समझने की जरूरत होती है। साथ ही सरकारी निजी नीतियों और सिफारिशों की समझ होना भी आवश्यक है।
जरूरीस्किल्स : प्रोजेक्टमैनेजमेंट, एचआर, सेल्स और मार्केटिंग स्किल्स।
वेतन: 25,000 से 50,000 रुपए प्रति माह

इन्वाइरॅनमेंटल इंजीनियर
बढ़तीजनसंख्या और तेजी से हो रहे विकास से उत्पन्न होने वाली समस्याओं से निजात दिलाने में इन्वाइरॅनमेंटल इंजीनियर अहम भूमिका निभाते हैं। वे निर्माण कार्य के दौरान सुरक्षा के नियमों का पूरा ध्यान रखते हैं और यह सुनिश्चित करते हैं कि प्राकृतिक संसाधनों को नुकसान पहुंचे। इनकी मांग मुख्य रूप से कॉर्पोरेशन्स और डेवलपर्स करते हैं।
जरूरीस्किल्स : बेहतरीनमौखिक और लिखित कम्युनिकेशन स्किल्स और मजबूत इंटरपर्सनल स्किल्स।
वेतन: 30,000 से 50,000 प्रति माह

सोशलसर्विस कोऑर्डिनेटर
सोशलसर्विस कोऑिर्डनेटर को उचित सेवाओं के माध्यम से और सोशल प्लानिंग में योगदान देकर व्यक्तियों, परिवारों, ग्रुप्स और समुदायों की मदद करने की जिम्मेदारी निभानी होती है। वे समाज के नागरिकों की सुरक्षा और कल्याण का पूरा ध्यान रखते हैं और उन्हें किसी भी किस्म के शोषण, अपराध और जालसाजी से बचाते हैं।
जरूरीस्किल्स : टीममैनेजमेंट, विषम परिस्थितियों में काम करने की क्षमता के साथ बेहतर कम्युनिकेशन स्किल्स जरूरी हैं।
वेतन- 25,000से 40,000 रुपए प्रति माह

टॉप सरकारी नौकरी, प्राइवेट सेक्टर नौकरी इन हिंदी, top ten private sectors jobs and business, business guide and career counseling news in hindi, top ten sectors for jobs, top private jobs now

 
Top