Menu

Follow by Email

Subscribe us Follow by Email

सीबीआई ने की सिंडिकेट बैंक के चेयरमैन के साथ दो ओर की गिरफ़्तारी 

सिंडिकेट बैंक के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर (सीएमडी) सुधीर कुमार जैन को सीबीआई ने 50 लाख रुपये की रिश्वतखोरी के आरोप में गिरफ्तार किया है। उनके अलावा पांच लोग और पकड़े गए हैं। इनमें एक विनीत गोधा मध्य प्रदेश कांग्रेस का पूर्व प्रवक्ता और लीगल एडवाइजर है। सीबीआई डायरेक्टर रंजीत सिन्हा ने बताया कि कोयला घोटाले में आरोपी कंपनियों की क्रेडिट लिमिट बढ़ाने के बदले यह रिश्वत दी जा रही थी।
cbi arrested syndicate bank cmd 
सूत्रों ने बताया कि 200 करोड़ के लोन को मंजूरी देने के लिए रिश्वत मांगी गई थी। बतौर एडवांस 50 लाख रुपये लेकर विजय पाहूजा दिल्ली से भोपाल आया था। जब वह विनीत और उसके बिल्डर भाई पुनीत गोधा को रकम दे रहा था, तभी सीबीआई ने दबोच लिया। ये दोनों सीएमडी सुधीर जैन के साले हैं। आरोप है कि रकम भूषण स्टील की ओर से विजय को दी गई थी। सीएमडी को बेंगलुरु से अरेस्ट किया गया। सीबीआई को उनके घर से 21 लाख रुपये, 1.68 करोड़ का गोल्ड और 63 लाख की एफडी बरामद हुईं। इस मामले में सीबीआई ने दो एफआईआर दर्ज की हैं, जिनमें भूषण स्टील के वाइस प्रेजिडेंट व एमडी नीरज सिंघल और प्रकाश इंडस्ट्रीज के सीएमडी वेदप्रकाश अग्रवाल का भी नाम है।

इससे पहले कहाँ-2 हुई पब्लिक मनी की लूट
घूसखोरी में किसी सरकारी बैंक के टॉप अफसर की यह पहली गिरफ्तारी नहीं है। पहले भी सरकारी कंपनियों और बैंकों के ये बड़े अफसर रिश्वत के मामलों में अरेस्ट हो चुके हैं-
  • मई, 2013 : इंडियन बैंक के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर रहे गोपाल कृष्णन।
  • मई, 2012 : एमएसटीसी के सीएमडी माल्यसेन गुप्ता।
  • मार्च, 2011 : नाल्को के सीएमडी ए.के. श्रीवास्तव।
  • नवंबर, 2010 : एलआईसी हाउसिंग के सीईओ रामचंद्रन नायर, बैंक ऑफ इंडिया के जनरल मैनेजर आर. एन. तायल और पंजाब नैशनल बैंक के डिप्टी जनरल मैनेजर 

syndicate bank fraud and bribe money, cbi arrest syndicate bank cmd, mlm fruad news in hindi,

 
Top