Menu

12वीं के बाद कैंसर से संबंधित ऑन्कोलॉजिस्ट मेडिकल फील्ड में एक महत्वपूर्ण कैरियर ऑप्शन है. 
ऑन्कोलॉजी एक ऐसी मेडिकल साइंस है, जिसका संबंध कैंसर जैसे रोग से है। यह ऐसी खतरनाक बीमारी है, जो उचित इलाज के अभाव में जानलेवा ही साबित होती है। डब्ल्यूएचओ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, वर्तमान माहौल में विभिन्न कारणों से कैंसर से ग्रस्त रोगियों की संख्या काफी बढ़ रही है। यही कारण है कि समाज में बेहद प्रतिष्ठित माने जानेवाले इस प्रोफेशन के विशेषज्ञों की जरूरत भी बढ़ी है। देश में पर्याप्त ऑन्कोलॉजिस्ट न होने के कारण इस फील्ड में व्यापक संभावनाएं हैं।
विशेषज्ञता
ऑन्कोलॉजी की फील्ड काफी व्यापक है। इसके तहत कई क्षेत्र आते हैं, जैसे सर्जिकल ऑन्कोलॉजी, मेडिकल ऑन्कोलॉजी, रेडिएशन ऑन्कोलॉजी आदि। प्रोफेशनल किसी भी क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल कर सकते हैं।
कार्य प्रकृति
मेडिकल ऑन्कोलॉजिस्ट द्वारा रोगियों का कई तरह से उपचार किया जाता है। इसके तहत कीमोथेरेपी, हारमोनल थेरेपी, बोन मैरोट्रांस्प्लांट आदि तमाम बातें शामिल हैं। ऑन्कोलॉजिस्ट को न सिर्फ इलाज करना होता है, बल्कि इस खतरनाक बीमारी में रोगियों को काफी हौसला भी देना पड़ता है, ताकि उनका भावनात्मक संतुलन बना रहे।
कोर्स व शैक्षणिक योग्यता
जो अभ्यर्थी इस फील्ड में कैरियर बनाना चाहते हैं, उनके लिए जरूरी है कि वे साइंस स्ट्रीम (फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी) से 12वीं उत्तीर्ण हों। इसके बाद अभ्यर्थी एमबीबीएस एग्जाम के लिए आवदेन कर सकते हैं। एमबीबीएस की पढ़ाई करने के बाद वे एमएस अथवा एमडी के माध्यम से ऑन्कोलॉजी में स्पेशलाइजेशन कर सकते हैं।
मौके कहां-कहां
प्रोफेशनल्स को विभिन्न अस्पतालों, स्वास्थ्य केंद्रों, कैंसर रिसर्च सेंटर्स में मौके मिलते हैं। इसके तहत निजी व सरकारी दोनों ही तरह के अवसर उपलब्ध हैं। इसके अलावा इस फील्ड में निजी प्रैक्टिस के भी भरपूर मौके उपलब्ध हैं।
प्रमुख संस्थान
  • ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, नई दिल्ली
  • www.aiims.ac.in
  • बतरा हॉस्पिटल ऐंड मेडिकल रिसर्च सेंटर, दिल्ली
  • www.batrahospitaldelhi.org
  • राजीव गांधी कैंसर इंस्टीट्यूट ऐंड रिसर्च सेंटर, दिल्ली
  • www.rgci.org
  • गुजरात कैंसर ऐंड रिसर्च इंस्टीट्यूट, अहमदाबाद
  • www.cancerindia.org
 
Top