Menu

Follow by Email

Subscribe us Follow by Email

बदलते परिवेश में व्यापार का स्वरूप भी अंतरराष्ट्रीय हो गया है। भारत का वैश्विक व्यापार भी निरंतर बढ़ता जा रहा है। यही कारण है कि एक्सपोर्ट मैनेजमेंट से जुड़े लोगों के लिए रोजगार के भी तमाम अवसर उपलब्ध होने लगे हैं। ऐसे में आयात-निर्यात (एक्सपोर्ट-इम्पोर्ट) आज एक महत्वपूर्ण कॅरियर विकल्प बन गया है।
कार्य प्रकृति
आयात व निर्यात की संपूर्ण बारीकियों से अवगत होना किसी भी एक्सपोर्ट मैनेजमेंट प्रोफेशनल के लिए जरूरी है। निजी या सरकारी कंपनियों के विदेशी व्यापार से जुड़ी विभिन्न गतिविधियों के लिए एक्सपोर्ट एग्जीक्यूटिव और मैनेजर ही जिम्मेदार होते हैं। क्लाइंट से बातचीत करना और उनसे मिलना-जुलना एक्सपोर्ट एग्जीक्यूटिव की सफलता के लिए जरूरी है। उन्हें एक्सपोर्ट मार्केट रिसर्च, डॉक्यूमेंटेशन, कीमत, वितरण, एक्सपोर्ट फाइनेंस, मूल्य आदि से संबंधित कार्य करने पड़ते हैं। काम के सिलसिले में विदेशी फर्म्स से संपर्क बनाए रखना उनके लिए अत्यंत जरूरी होता है।
कैसे-कैसे कोर्स
एक्सपोर्ट-इम्पोर्ट के क्षेत्र में विभिन्न सर्टिफिकेट, डिप्लोमा और मैनेजमेंट स्तर के कोर्स हैं। एक्सपोर्ट मैनेजमेंट से जुड़े अधिकांश पाठ्यक्रमों के लिए ग्रेजुएशन जरूरी है, पर कुछ सर्टिफिकेट व डिप्लोमा कोर्स 12वीं के बाद भी किए जा सकते हैं। अच्छे संस्थानों में एंट्रेंस टेस्ट के आधार पर दाखिला मिलता है। वैसे तो किसी भी स्ट्रीम के विद्यार्थी इसमें दाखिला ले सकते हैं, पर कॉमर्स और अर्थशास्त्र के विद्यार्थियों को थोड़ी सहूलियत होती है।
व्यक्तिग गुण
अभ्यर्थी के लिए अंतरराष्ट्रीय व्यापार के वर्तमान ट्रेंड पर नजर रखना जरूरी है। व्यापारिक दबाव का सामना करने अलावा उसमें डेड लाइन को पूरा करने की क्षमता भी होनी चाहिए। बेहतर कम्युनिकेशन स्किल इस फील्ड में सफलता के लिए अनिवार्य है।
अवसर कहां-कहां
एक्सपोर्ट मैनेजमेंट के टैलेंटेड प्रोफेशनल्स को मार्केटिंग, फॉरेन पॉलिसी, पैकेजिंग, डॉक्यूमेंटेशन, शिपिंग आदि विभिन्न क्षेत्रों में काम मिलता है। इसके तहत ट्रेडिंग हाउस, एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल, एक्सपोर्ट हाउस, पैकेजिंग इंडस्ट्री, एक्सपोर्ट प्रोसेसिंग जोन, मेरीन कंपनी, कार्गो हैंडलिंग एजेंट्स आदि के साथ जुड़कर इस क्षेत्र में कॅरियर की राहें बनाई जा सकती हैं। अनुभव और आर्थिक स्थिति के अनुकूल एक्सपोर्ट-इम्पोर्ट का अपना काम भी शुरू किया जा सकता है।
मुख्य संस्थान
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेन ट्रेड, नई दिल्ली
  • www.iift.edu
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ कॉमर्स ऐंड ट्रेड, लखनऊ
  • www.iictindia.com
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैटेरियल मैनेजमेंट, नवी मुंबई
  • www.iimm.org
  • दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स, दिल्ली यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • www.mibdu.org
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस, चेन्नई
  • www.iiib.net
  • सिम्बॉयोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस, पुणे
  • www.siib.ac.in 
 
Top