Menu

Follow by Email

Subscribe us Follow by Email

यहाँ हम आपको देंगे कुछ Personality development tips आज दुनिया में अत्यंत तेजी से तकनीकी परिवर्तन हो रहा है। विज्ञान के दृष्टिकोण से जीवनयापन के जो तरीके पांच वर्ष पहले या पिछले वर्ष भी थे, उनमें से कई का रूप बदल गया है या उनके तरीके में बदलाव आया है। रेडियो, टीवी और Mobile Phone के बाद अब Internet ने विश्व को सिकोड़ कर काफी छोटा कर दिया है। हमें इन तकनीकी परिवर्तनों के साथ तालमेल बिठाकर चलना ही होगा, तभी हमारे लिए तरक्की की राहें बन पाएंगी। हमें परिवर्तन के प्रति अपना दिमाग खुला रखना चाहिए और विगत को पीछे ढकेल कर नई परिस्थितियों के अनुरूप खुद को ढालते रहना चाहिए।
तकनीकी बदलाव और तमाम यंत्रों व उपकरणों की उपलब्धि से न सिर्फ जीवनयापन आसान हुआ है, बल्कि उत्पादकता में भी काफी सुधार आया है। तकनीकी परिवर्तन का ही परिणाम है कि अब गांवों में भी लोगों के पास Mobile Phone उपलब्ध होने लगा है, Computer पर ही भारतीय या विदेशी पत्र-पत्रिकाएं पढ़ने की सुविधा हो गई है और Online Game के रूप में मनोरंजन के क्षेत्र में भी बदलाव आया है। यदि अपने जीवनकाल में हुए बड़े परिवर्तनों की हम एक सूची बनाएं, तो हमें देखकर आश्चर्य होगा कि पिछले एक दशक में तकनीकी रूप से ऐसे-ऐसे बदलाव आए हैं, जिनके बारे में पहले सोचा भी नहीं जाता था।
तकनीकी बदलाव के अनुरूप खुद को ढालने में थोड़ी मेहनत करनी पड़ सकती है, पर यदि आप उसके फायदों के बारे में सोचेंगे, तो फिर सीखना आपको मुश्किल नहीं लगेगा। हम चाहें या न चाहें, परिवर्तन तो अपरिहार्य है। इसलिए अच्छा होगा कि हम उन्हें स्वीकार कर स्वयं ही उनके कर्ता बन जाएं। तकनीकी सीख के लिए उम्र का कोई बंधन नहीं होता, बल्कि किसी भी उम्र में हम इस पर अपनी पकड़ बना सकते हैं।
अब तो अध्ययन के लिए भी ऑनलाइन माध्यम उपलब्ध होने लगे हैं। तमाम Websites  हैं, जो हमारे ज्ञान को विस्तार देने में मददगार हैं। इतना ही नहीं, अब तो आवेदन के लिए Online  माध्यमों का सहारा लिया जाने लगा है और result भी online ही Published होने लगे हैं। ऐसे में यदि आप इस तकनीकी बदलाव को नहीं समझेंगे, तो पिछड़ जाएंगे, पढ़ाई में भी और जीवन के अन्य क्षेत्रों में भी। इसलिए प्रगति करनी है, तो आराम के क्षेत्र से हमें बाहर आना ही होगा और अपनी जरूरत के अनुसार तकनीकी परिवर्तनों को अपनाना ही होगा।
प्रतिस्पर्धा भरे आज के माहौल में अव्वल रहना है, तो तकनीकी बदलाव के अनुरूप खुद को ढाल लें..
 
Top