Menu

Follow by Email

Subscribe us Follow by Email

मनुष्य आध्यात्मिक और दुर्भावनापूर्ण मामले सारी लौकिक प्राणियों पर पुण्य रखता है और इसकी सबसे महत्वपूर्ण क्षमता उसका पूरा विचार व्यक्त करने और राय है कि वह बातचीत के रूप में बोल कर करता है। इसे '' भाषा '' कहते हैं और हर भाषा कि मनुष्य को उसकी माँ की गोद से विरासत में मिलती है यानी ''मात्री भाषा '' वह उसे सबसे सुंदर और सम्मानजनक है।
ज्ञान प्राप्त करने के लिए भी स्रोत शिक्षा महत्वपूर्ण उपकरण भाषा और साक्षरता के बारे में साक्षर प्रशंसा भी यही है कि कोई व्यक्ति किसी एक भाषा में वाक्यांश पढ़ सकता है और साधारण रचना लिख ​​सके गिनती पढ़े लिखे लोगों में होता है । भाषा न केवल ज्ञान प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है बल्कि हमारे विचार और विचारों को दूसरे में कुंजी प्रकृति शामिल हैं।
सांकेतिक भाषा जो गूंगा और बहरा लोग उपयोग से ली गयी छवियाँ (चित्रकारी) और नियमित प्रचलित इस समय भाषाओं तक के माध्यम  (मीडियम) हमारे लिए किसी वरदान से कम नहीं। भाषाएँ दिलों को जीत करती और जोड़ती है। दुनिया की छः अरब से ज्यादा आबादी में हजारों भाषाओं ने जन्म लिया और बढ़ावा मिला है और विभिन्न क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हजारों भाषाएँ आज बोली जा रही हैं।

दुनिया में बोली जाने वाली बहुत सी भाषाएँ ख़त्म हो चुकी हैं जिन्हें '' मृत भाषाएँ '' कहते हैं। भाषाओं के विनाश होने की प्रक्रिया अब भी बड़ी तेज़ी के साथ जारी है या भाषाएँ दिनोदिन खतरों  का सामना कर रहे हैं और अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही हैं।
आज संचार के विकास और इंटरनेट की दुनिया में दुनिया के 100 से जायद बड़ी भाषाएँ जिन में '' हिंदी 'भी अव्वल है, बड़े काम चिकित्सा जानकारी और सामाजिक संपर्कों में इस्तेमाल हो रहे हैं। कम से कम इन भाषाओं का भविष्य उज्जवल कहा जा सकता है और विश्वास से कहा जा सकता है

हम सब एक न एक भाषा बोलते हैं। हम में से कुछ एक ज्यादा भाषाएँ बोलने की क्षमता रखते हैं जबकि ऐसे भी बुद्धिमान लोग होते हैं कि दर्जन भर भाषाएँ बहुत कौशल से समझ और बोल सकते हैं। रोजमर्रा की जिंदगी में भाषाएँ न केवल हमारी बहुत मदद करती हैं बिल कि इस संकट के समय में हमें बचाती भी हैं। इस लेख में दुनिया में भाषाओं से संबंधित कुछ दिल चसप और आश्चर्यजनक तथ्य सामने लाए गए हैं, \

आइये जानते हैं विभिन देसों की भाषा के बारे में रोचक तथ्य


  • एक अनुमान सारी दुनिया में 7 हजार के लगभग भाषाएँ प्रचलित हैं।
  • चीनी के कुल वर्णों की संख्या 50,000 है और बोलचाल के लिए 2000 हजार वर्ण जानकारी आवश्यक होती हैं।
  • महाद्वीप एशिया में बोली जाने वाली भाषाओं की संख्या 2200 के लगभग है।
  • दुनिया की कुल आबादी का 12.44 प्रतिशत हिस्सा चीनी "Mandarin" भाषा बोलता है।
  • लैक्सम्बरग ऐसा देश है जहां बच्चों को तीन भाषाएं पढ़ाई जाती हैं, जिनका अनुपात 50 प्रतिशत है। यह राष्ट्रीय भाषा लैक्सम्बरगश के साथ पढ़ाई जाती हैं, जिनमें फ्रेंच, जर्मन और अंग्रेजी शामिल है।
  • दुनिया की कुल आबादी का अनुपात 1/4 है कि अंग्रेजी भाषा के कुछ जानकारी रखता है।
  • फ्रेंच में अक्षर o के लिए 13 उच्चारण प्रचलित हैं।

*बोटसवाना में बोली जाने वाली xoo एक ऐसी भाषा है जो वर्णमाला पांच क्लिक (Clicks) वाली आवाजों पर बनाए गए हैं और 17 सिरों पर।
विश्व रैंकिंग 2400 वर्ग भाषाएँ ऐसी हैं कि खतरे में घिरी हैं।
दुनिया में भाषाओं के विनाश होने की प्रक्रिया बहुत तेजी से हो रहा है और हर दो हफ्ते यानी 14 दिनों में एक भाषा मृत हो जाती है।
इस समय दुनिया में 231 भाषाएँ ऐसी हैं जो पूरी तरह से लुप्त हो चुकी हैं।
कठोर मौसम की स्थिति और क्षेत्र भाषाओं के लिए '' हॉट सपाटस '' हैं। इस भाषाओं के लिए गंभीर खतरों रखते हैं, जिनमें पूर्वी साईबीरिया, उत्तर पश्चिमी प्रशांत, उत्तरी अमरीका का Plateau और उत्तरी ऑस्ट्रेलियाई क्षेत्र शामिल हैं।
मैक्सिकन भाषा जिसे इयान पीनियसो (Ayapaneco) कहा जाता है विनाश के खतरे से ग्रस्त है, जो दिल के रोग के कारण यह है कि बोलने वाले केवल दो व्यक्तियों बचे हैं और वह भी आपस में बोलने से इनकार कर दिया है।
ब्रिटेन के प्रसिद्ध प्रमुख लेखक और विद्वान जे आर.आर. टोलकीन Tolkien) (JRR बच्चों की कहानियों के बारे में अधिक प्रतिष्ठा रखते हैं। इनमें कल्पनाशील शक्ति और युद्ध अभियान खीज़ी से भरपूर कहानी '' लॉर्ड ऑफ द छल्ले 'भी शामिल है, जिसकी कहानियों पर सर्वमान्य फिल्में भी बनाई जा चुकी हैं। उसकी कहानियों में लेखक ने 12 कल्पनाशील और पौराणिक प्रकृति की भाषाओं का उल्लेख किया जिनमें कीोनिया (Quenya) और स्कंडीरन (Skindarin) सबसे महत्त्वपूर्ण हैं।
*दनिया विश्वव्यापी 5 लाख से 20 लाख लोग कृत्रिम भाषा एस्पेरांतो बोलते और समझते हैं, जिसे 19 वीं सदी में पोलिश माहरलसानियात डॉक्टर ज़मानत होफ आविष्कार किया था। 1960 के दशक में दो फीचर फिल्मों को पूरी तरह से एस्पेरांतो भाषा में किया जा चुका है।
*साइनस कथा के राजा कार क्लासिक टीवी श्रृंखला 'द ासटार्टरिक' 'कहानी में अन्य ग्रहों की विदेशी प्राणियों को एक भाषा बोलते हुए दिखाया गया था। वह कलनगन (Klingon) थी। इस फर्जी या कृत्रिम भाषा एक व्यक्ति मार्क औक्रैंड (Mark Okrand) ने बनाया था, जो कि भाषा विज्ञान का शिक्षक था और कैलिफोर्निया के एक विश्वविद्यालय में पढ़ा था।
टीवी श्रृंखला सटार्टरिक कहानी में दिखाया गया अंतरिक्ष प्राणियों की भाषा '' कलनगन '' वास्तविक जीवन में एक व्यक्ति ने परखने के लिए यह व्यावहारिक अनुभव किया कि इंसान पर इसके प्रभाव हो सकते हैं। यह व्यक्ति आर्म्ड सपईरज़ (Armond Speers) था, जो अपने बेटे के जन्म के बाद से तीन साल तक यह भाषा बोलता रहा। हालांकि बच्चे का कलनगन कालेब और लहजा बहुत अच्छा रहा, लेकिन उसने इस भाषा में दिल चसपी नहीं ली, जिससे वह तीन साल तक यह भाषा बोलने के बावजूद यह भूल चुका था। तब उसकी माँ ने उसे इंग्लिश सिखाई।
ऐसा राज्य को जो विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों और देशों के समूह में शामिल हों '' माइक्रोनेशिया '' कहा जाता है और उसके निवासियों को 'माईकरोनियशीन' 'कहते हैं। उनकी अपनी भाषा होती है, क्योंकि भाषाएँ बहुत ही कम होती हैं, इसीलिए समय साया रहती हैं। उन्हें उनकी घोषणा के बावजूद दुनिया स्वीकार नहीं करती। एक ऐसी ही राज्य अमरीका में रही है जिसे '' किंगडम ऑफ टलोसा '' का नाम दिया गया है। इस राज्य की भाषा '' टलोसेन '' थी, जिसमें 35 हजार शब्द शामिल थे। दिल चसप रूप में राज्य की *मसनोिी भाषा '' टलोसेन '' एक चौदह वर्षीय अमेरिकी लड़के रॉबर्ट बेन मैडिसन ने आदेश दिया था। उसने सारा काम 1979 में अपने घर के बेडरूम में रहकर पूरा किया था और यह उसके घर तक ही सीमित रहा। रॉबर्ट चिकित्सा का संबंध अमेरिकी शहर मलवीकी (Milwauki) से है।
1990 में सामने आने वाले बच्चों के खिलौने "Furby" की आधिकारिक भाषा फरबश (Furbish) रखी गई थी।
यूरोपीय संघ से जुड़े 28 देशों के सरकारी और प्रयुक्त भाषाओं की संख्या 24 है।
संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष-माने मानवाधिकार घोषणापत्र कि 60 साल पहले पारित किया गया था, एक ऐसी दस्तावेज़ है कि दुनिया की 300 बड़ी भाषाओं में अनुवाद करके प्रकाशित की जा चुकी है। यह दुनिया में सबसे अधिक अनुवाद होने वाली दस्तावेज है।
संयुक्त राष्ट्र दुनिया की व्याख्या के लिए छह सरकारी भाषाएँ रखता है, जिनमें अरबी, चीनी, अंग्रेजी, फ्रेंच, रूसी और स्पेनिश शामिल हैं।
दुनिया की जिस भाषा में सब से अधिक संख्या में किताबें अनुवाद चुकी हैं वे जर्मन भाषा है, तो स्पेनिश और फ्रेंच का नंबर आता है। इसी तरह अंग्रेजी वह भाषा है जो किए गए पुस्तकों के अनुवादों की संख्या सबसे अधिक है, दूसरे नंबर पर फ्रेंच और तीसरे नंबर पर जर्मन किताबें हैं।
*''बाइबल '' अब तक दुनिया की सभी प्रमुख भाषाओं में प्रकाशित हो चुकी है और 2454 भाषाओं में बाइबल या इस खंड दस्तयाब हैं, जबकि कुरान दुनिया में सबसे पढ़ी जाने वाली किताब है और दुनिया की सभी प्रमुख भाषाओं में कुरान के अनुवाद दस्तयाब हैं।
बाइबल के बाद जो किताब सबसे अलग भाषाओं में छप चुकी और दस्तयाब है वह बच्चों की पुस्तक '' पनोचीहो '' (Pinocchio) है।
अगाथा क्रिस्टी वह लेखिका हैं जिनकी रचनाओं को सबसे अधिक भाषाओं में अनुवाद किया जा चुका है।
पापा नीोगनी (Papua New Guinea) द्वीप में बोली जाने वाली भाषाओं की संख्या 830 है।
कुछ भाषाओं के बीच लंबे संचार दूरी के बावजूद उनमें अद्भुत समानता पाई जाती है। यह एक सिद्धांत है जिसे जापानी और शुद्ध अमरीकी जनजाति की भाषा '' ज़ोनी '' के बीच नोट किया जा सकता है, जिनमें डीएनए (DNA) जैसी आनुवंशिक समानता मौजूद है।
Basque भाषा फ्रांस और स्पेन के बीच फैले पर्वत "Pyrenees" के पक्ष बोली जाती है। यह यूरोप की एकमात्र भाषा है जो किसी भी यूरोपीय भाषा से बिल्कुल उदासीन है।
एक भारतीय व्यक्ति का रिकार्डशदा गाना कि दो सीडी वाली पैकिंग में जारी किया गया था उसे दुनिया की 125 भाषाओं में डबिंग करके दर्ज किया जा चुका है, जो कि संगीत का अनोखा सम्मान है।
'' लिकोईड ब्लू बैंड 'का गाया हुआ एक गाना "Earth Passort" भी एक रिकॉर्ड बन गया है, जिसे दुनिया की सबसे भाषाओं में गाया जा चुका है।
यूरोप अद्वितीय गीतों का मुकाबला कि यूरोप के नंबर वन गाने का फैसला करता है '' यूरवोीژन '' है जिसमें सभी यूरोपीय गायक अपनी राष्ट्रीय भाषाओं में जलवा अफ़रोज़ होते हैं और परफॉर्म करते हैं। अब तक अंग्रेजी भाषा में गाए गीतों ने किसी और यूरोपीय भाषा के प्रतियोगी सबसे प्रतियोगिताओं में काम याबियां समेटी हैं कि एक रिकॉर्ड है।
*आज तक दुनिया में जो लेखन सबसे प्राचीन होने का गौरव रखती है वह 4500 ईसा पूर्व की एक रचना है। चीनी का यह लेख "Yangshao" कविता पर आधारित है।
*सब अक्षरों क्रम वाली भाषा '' रोटोकास '' जो पात्रों ग्यारह बारह हैं।
*सब ज्यादा वर्णमाला क्रम कंबोडिया भाषा खीमर Khmer)) में हैं, जिनकी संख्या 74 है।
"" Cryptophasia जुड़वां लोगों की भाषा कहते हैं। यह ऐसी भाषा है जो जुड़वां) Twins (लोगों के बीच अस्तित्व में आती है और बढ़ावा पाती है।
अंग्रेजी शब्द डोर्ड (Dord) के अर्थ घनत्व या घने पिन हैं। यह वास्तव में कोई शब्द नहीं है। यह शब्द गलती से मरियम वेबस्टर डिक्शनरी में शामिल हो गया और इस गलती का 1939 में पता चला।
रोमन कैथोलिक ईसाइयों के आध्यात्मिक गुरु पोप फ्रांसिस (वर्तमान पोप) ने अपने स्पेनिश खाते से नौ भाषाओं में टोईटस करके रिकॉर्ड बनाया।

  • एक किताब वोईनच "The Voynich Book" जो स्क्रिप्ट 1400 साल पुराना है। लंबे समय से चल रहे प्रयासों के बावजूद उसे समझा नहीं जा सका है और उसकी भाषा अब तक अज्ञात है।
  • एक शोध अध्ययन प्राप्त यह है कि अगर नवजात बच्चों को अपने शुरुआती कुछ महीनों में विदेशी भाषाएँ सुनाई जाएं तो इसका बेहद सकारात्मक असर होता है और बाद के जीवन में उनके लिए अजनबी भाषाएँ सीखना बहुत आसान हो जाता है।
  • दनिया के लब-ओ-लहजा और ध्वनि अस्थिरता (ACCENTS) रखने और बोली जाने वाली कई भाषाएँ हैं जिनका इसके अलावा प्रतीकात्मक भाषा (Sign language) में भी व्यक्त होता है। जहां मौखिक या बोलने से सूचनाओं का उपयोग संभव न हो या ठीक से परिभाषित नहीं किया जा सके, वहाँ '' साइन लैंग्वेज '' इस खाई को पाटने के लिए इस्तेमाल होता है। प्रतीकात्मक भाषा व्यक्त हथियार और हाथों की गतियों से बखूबी होता है, जैसे कि बेवफाई की अभिव्यक्ति के लिए कंधे उचका या चेहरे बिगाड़ कर दिखाया। इस का सबसे अच्छा उदाहरण गूंगा और बहरा के हाथों के इशारों के माध्यम से बातचीत की है। दूसरे तरीके में नृत्य के माध्यम से भी प्रतीकात्मक बोली बखूबी वर्णित है और माना जाता है। नृत्य शारीरिक अंगों की कविता है जबकि संगीत इस विशिष्ट भाषा '' म्यूजिकल नोटेशन '' में लिखा जाता है, जहां विभिन्न सिरों सेटिंग 'रधम' 'में समोया जाता है।
  • संयुक्त राज्य अमेरिका की भारी बहुमत अमेरिकन इंग्लिश बोलती है इसके बावजूद यूएसए की कोई आधिकारिक भाषा नहीं है।
  • अफ्रीका वह देश है जहां एक साथ 11 सरकारी भाषाएँ प्रचलित हैं, जिनमें अंग्रेजी के साथ स्थानीय अफ्रीकी भाषाएँ शामिल हैं।
  • भाषा विज्ञान की शब्दावली में ऐसे व्यक्ति को पोली गुलाटी (Polyglot) कहा जाता है जो एक से ज्यादा भाषाओं में बोल और लिख पढ़ सकता हो।
  • यूरोप की सबसे प्राचीन भाषा लैटिन है, जो वर्णमाला (ABC) लगभग सारी यूरोपीय भाषाओं में अपनी आवाज के साथ प्रयोग किया जाता है।
 
Top