Menu

फ्री में रु.1000 का मोबाइल रिचार्जे करे, 100% working!

आईफोन 5एस चोरी हुआ और मालिक ने फिर से खरीदने की सोची 

स्टूडेंट का आईफोन 5एस मार्केट में चोरी हो गया। उसने सेकंड हैंड फोन खरीदने का फैसला किया और बिकने वाले सामान की वेबसाइट चेक कर एक फोन पसंद कर लिया। वह फोन दो लड़के बेचने आए तो उसके आईएमईआई नंबर से पता चला कि वह तो उसी का फोन था। दोनों लड़के गिरफ्तार कर लिए गए।
IPHONE 5S FOUND WHEN EVER THEFTS
यह घटना कनॉट प्लेस में हुई। पटियाला निवासी कुशल बंसल (24) नोएडा में अपनी बहन के घर रहकर वहां के एक इंस्टिट्यूट से कोर्स कर रहा है। सोमवार को वह कनॉट प्लेस घूमने आया था। उसका आईफोन यहां चोरी हो गया। उसने थाने में कंप्लेंट दे दी। उसने दूसरा आईफोन खरीदने के लिए सेकंड हैंड सामान का विज्ञापन देने वाली वेबसाइट चेक की। उसे एक आईफोन पसंद आ गया। उसने उस विज्ञापन में दिए गए नंबर पर कॉल की तो उसकी कीमत 38 हजार रुपये बताई गई।
कुशल ने फोन देखने की इच्छा जाहिर की। दो लड़कों ने मालवीय नगर मेट्रो स्टेशन पर आकर उसे फोन दिखाया। कुशल को वह फोन हूबहू अपने फोन जैसा लगा, लेकिन उसने इसे संयोग समझा। कुशल ने लड़कों ने उस फोन का बिल मांगा। लड़के अगले दिन बिल देने के लिए तैयार हो गए। गुरुवार को कनॉट प्लेस में बिल समेत फोन बेचने की डील हो गई।
गुरुवार को दोनों ने कनॉट प्लेस में पालिका मार्केट के गेट नंबर 1 पर कुशल को फोन और बिल दे दिया। बिल न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी की एक दुकान के नाम से इश्यू था। कुशल को यह देख कर बेहद हैरानी हुई कि उस बिल पर लिखा आईएमईआई नंबर उसी के फोन का था। उसने तुरंत कुछ नहीं कहा। उसने वहां घूम रहे पुलिस कॉन्स्टेबल को बुला लिया। वह कॉन्स्टेबल दोनों लड़कों को पकड़ कर थाने ले आया।
पूछताछ में लड़कों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। उनके नाम रजत कांत सिंह निवासी संगम विहार और महेश कुमार निवासी खिड़की एक्सटेंशन, मालवीय नगर हैं। रजत कांत ने पुलिस को बताया कि उसी ने यह फोन चुराया था। उसी ने इसका फर्जी बिल तैयार किया। बिल पर महेश ने दस्तखत किए थे। एफआईआर दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

theft iphones searching, theft news, smartphone lost news, thief s arrested in news delhi, news in hindi, sell out iphone caught, one iphone second time wont;s

0 comments:

Post a Comment

 
Top