Menu

फ्री में रु.1000 का मोबाइल रिचार्जे करे, 100% working!

जानिए भारतीय शेयर बाज़ार साढ़े तीन घंटे तक क्यों नही हुई रेडिंग 

www.nvrthub.com न्यूज़: कल सुबह से ही भारतीय शेयर बाजार के प्रमुख एक्सचेंज बीएसई में तकनीकी खामी की वजह से ट्रेडिंग लगभग 3.5 घंटे बंद रही। दोपहर 12.45 बजे एक्सचेंज पर ट्रेडिंग दोबारा शुरू हुई। यह पहली बार नहीं है जब बीएसई में तकनीकी खराबी आई है। 22 दिन पहले पहले 11 जून 2014 को भी तकनीकी खामी के चलते लगभग 50 मिनट के लिए ट्रेडिंग बंद थी। 3.5 घंटे के इस समय में लगभग 28 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।
sensex news about crasha and work suspended


जानिए, कब-कब और कहां शेयर बाजार हुए ठप और डूब गए लोगों के पैसे  

बीएसई इंडिया के मुताबिक, नेटवर्क आउटेज के कारण सभी सेग्मेंटस में ट्रेडिंग बंद कर दी गई थी। एचसीएल की टीम इस खराबी का पता लगा रही थी, और 3.5 घंटे की मशक्कत के बाद कारोबार दोबारा शुरू हो गया।
बीएसई ही ऐसा पहला एक्सचेंज नहीं है, जिसमें इस तरह की तकनिकी खराबी आई है। बल्कि दुनिया भर के एक्सचेंज भी कभी ना कभी तकनीकी खराबी का शिकार हुए है। आइए हम जानते हैं दुनिया भर के कुछ ऐसे ही एक्सचेंज के बारे में जो तकनीकी खराबी के कारण रहे हैं बंद- 
23 अगस्त 2013 को अमेरिका के स्टॉक एक्सचेंज नैस्डैक (NASDAQ) पर 3 घंटों के लिए ट्रेडिंग बंद हुई थी। यह तकनीकी खराबी का कारण हुआ था। एक्चेंज ने कहा था कि ट्रेडिंग बंद होने का कारण कनेक्टिविटी में दिक्कत आना था।
नैस्डैक (NASADAQ US) पर आईटी कंपनियों की ट्रेडिंग होती है, जिनमें फेसबुक, एप्पल, याहू और गूगल प्रमुख हैं। नैस्डैक में कुछ भारतीय कंपनियां भी लिस्टेड हैं जिनमें सिफी और रेडिफ प्रमुख हैं। आईटी दिग्गज इंफोसिस भी नैस्डैक में लिस्ट थी, लेकिन बाद में यह NYSE में चली गई, जहां पर आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, विप्रो, टोटा मोटर्स, डॉ. रेड्डी और स्टरलाइट इंडस्ट्रीज हैं
टोक्यो स्टॉक एक्सचेंज (JAPAN)
22 जुलाई 2008 को टोक्यो स्टॉक एक्सचेंज की भी ट्रेडिंग बंद हो गई थी, जिसका कारण टेक्निकल दिक्कत थी। 2008 में साल भर में होने वाली यह तीसरी दिक्कत थी। इससे पहले 8 फरवरी 2008 को भी टोक्यो स्टॉक एक्सचेंज का काम तकनीकी खराबी के कारण काफी देर तक बाधित रहा। इसके बाद 10 मार्च 2008 को फिर से तकनीकी खराबी के कारण काफी देर तक ट्रेडिंग नहीं हो सकी
कैक (CAC) 40 में 27 जून 2011 को 30 मिनट के लिए तकनीकी खराबी के कारण कारोबार बंद हुआ था। कैक का संचालन यूरोनेक्स्ट के द्वारा किया जाता है। यूरोनेक्स्ट के सामने इससे एक हफ्ते पहले भी कुछ परेशानियां आई थीं। 21 जून 2011 को बेल्जियम और नीदरलैंड में भी तकनीकी खराबी आई थी, जिसके कारण कारोबार बंद हुआ था। वहीं 20 जून 2011 को भी यूरोनेक्स्ट को स्टॉक मार्केट के 1 घंटे देर से खुलने जैसी दिक्कत का सामना करना पड़ा था।
लंदन स्टॉक एक्सचेंज (UK)
लंदन स्टॉक एक्सचेंज में 25 फरवरी 2011 को तकनीकी खराबी के चलते कारोबार 4 घंटों के लिए बंद था। इस खराबी से एक सप्ताह पहले ही लंदन स्टॉक एक्सचेंज ने अपना एक नया सिस्टम लॉन्च किया था। इससे पहले 2009 में भी लंदन स्टॉक एक्सचेंज में तकनीकी खराबी के कारण ट्रेडिंग प्रभावित हुई थी।

sebi sensex shutdowns issues, sensex and others countries terminals news, top shutdowns in share markets news, history of breakdowns of all world stock markets, terminals and trading issues all over india, reasons of sensex stop workings, losses of sensex stop workings, stock exchange board of india, stock market crash

0 comments:

Post a Comment

 
Top