Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

प्रत्येक वर्ष गणेश चतुर्थी का पर्व भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है। धर्म ग्रंथों के अनुसार इसी दिन भगवान श्री गणेश का प्राकट्य (प्रकट होना) माना जाता है। इस दिन भगवान श्रीगणेश को प्रसन्न करने के लिए व्रत व कई प्रकार के विशेष पूजन किया जाता है। अबकी बार ये पर्व 29 अगस्त, शुक्रवार से है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस दिन कुछ यदि कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो भगवान श्रीगणेश अपने भक्तों पर प्रसन्न होकर उनकी हर मनोकामना पूरी करते हैं। यदि आप भी इस विशेष अवसर का लाभ उठाना चाहते हैं तो हम बतलाते हैं क्या-2 उपाय कर सकते हो आप:
ganesh chaturthi puja tips
  1. शास्त्रों में भगवान श्रीगणेश का अभिषेक करने का विधान बताया गया है। गणेश चतुर्थी के दिन भगवान श्रीगणेश का अभिषेक करने से विशेष लाभ होता है। इस दिन आप शुद्ध पानी से श्रीगणेश का अभिषेक करें। साथ में गणपति अथर्व शीर्ष का पाठ भी करें। बाद में मावे के लड्डुओं का भोग लगाकर भक्तजनों में बांट दें।
  2. यंत्र शास्त्र के अनुसार गणेश यंत्र बहुत ही चमत्कारी यंत्र है। चतुर्थी के दिन घर में इसकी स्थापना करें। चतुर्थी में इस यंत्र की स्थापना व पूजन करने से बहुत लाभ होता है। इस यंत्र के घर में रहने से किसी भी प्रकार की बुरी शक्ति घर में प्रवेश नहीं करती।
  3. अगर आपके जीवन में बहुत परेशानियां हैं, तो आप चतुर्थी के दिन हाथी को हरा चारा खिलाएं और गणेश मंदिर जाकर भगवान श्रीगणेश से परेशानियों का निदान करने के लिए प्रार्थना करें। इससे आपके जीवन की परेशानियां कुछ ही दिनों में दूर हो सकती हैं।
  4. अगर आपको धन की इच्छा है, तो इसके लिए आप चतुर्थी के दिन सुबह स्नान आदि करने के बाद भगवान श्रीगणेश को शुद्ध घी और गुड़ का भोग लगाएं। थोड़ी देर बाद घी व गुड़ गाय को खिला दें। ये उपाय करने से धन संबंधी समस्या का निदान हो सकता है।
  5. गणेश चतुर्थी के दिन सुबह स्नान आदि करने के बाद समीप स्थित किसी गणेश मंदिर जाएं और भगवान श्रीगणेश को 21 गुड़ की ढेली के साथ दूर्वा रखकर चढ़ाएं। इस उपाय को करने से भगवान श्रीगणेश भक्त की सभी मनोकामनाएं पूरी कर देते हैं। ये बहुत ही चमत्कारी उपाय है।
  6. गणेश चतुर्थी के दिन सुबह उठकर नित्य कर्म करने के बाद पीले रंग के श्रीगणेश भगवान की पूजा करें। पूजन में श्रीगणेश को हल्दी की पांच गठान श्री गणाधिपतये नम: मंत्र का उच्चारण करते हुए चढ़ाएं। इसके बाद 108 दूर्वा पर गीली हल्दी लगाकर श्री गजवकत्रम नमो नम: का जप करके चढ़ाएं। यह उपाय लगातार 10 दिन तक करने से प्रमोशन होने की संभावनाएं बढ़ सकती हैं।
  7. चतुर्थी के दिन किसी गणेश मंदिर जाएं और दर्शन करने के बाद नि:शक्तों को यथासंभव दान करें। दान से पुण्य की प्राप्ति होती है और भगवान श्रीगणेश भी अपने भक्तों पर प्रसन्न होते हैं।
  8. यदि बिटिया का विवाह नहीं हो पा रहा है, तो आज के दिन विवाह की कामना से भगवान श्रीगणेश को मालपुए का भोग लगाए व व्रत रखे। शीघ्र ही उसके विवाह के योग बन सकते हैं।
  9. चतुर्थी के दिन दूर्वा (एक प्रकार की घास) के गणेश बनाकर उनकी पूजा करें। श्रीगणेश की प्रसन्नता के उन्हें मोदक, गुड़, फल, मावा-मिïष्ठान आदि अर्पण करें। ऐसा करने से भगवान गणेश सभी मनोकामनाएं पूरी करते हैं।
  10. यदि लड़के के विवाह में परेशानियां आ रही हैं, तो वह आज भगवान श्रीगणेश को पीले रंग की मिठाई का भोग लगाए। इससे उसके विवाह के योग बन सकते हैं।
  11. चतुर्थी के दिन व्रत रखें। शाम के समय घर में ही गणपति अर्थवशीर्ष का पाठ करें। इसके बाद भगवान श्रीगणेश को तिल से बने लड्डुओं का भोग लगाएं। इसी प्रसाद से अपना व्रत खोलें और भगवान श्रीगणेश से मनोकामना पूर्ति के लिए प्रार्थना करें।
 
Top