Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

gang of fake cetificaiton
नई दिल्ली: उत्तर-पूर्वी जिला पुलिस ने नकली जन्म व जाति प्रमाण पत्र और वोटर आईडी कार्ड बनाने वाले गैंग के चार बदमाशों को दबोचा है। आरोपियों की पहचान अली हसन उर्फ शाहिद (30), राजेश कुमार (34), देव किशोर (35) और कादिर अली (22) के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपियो के पास से नकली प्रमाण पत्र व सामान बरामद किया है। पुलिस आरोपियो से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।
  • पांच से दस हजार में बनाते थे जन्म व जाति प्रमाण पत्र, एक हजार में वोटर आईडी कार्ड
  • नंद नगरी थाना पुलिस ने दबोचा, एसडीएम ऑफिस के पास चल रहा था गोरखधंधा
उत्तर-पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त आर ए संजीव ने बताया कि नंद नगरी थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि शनि बाजार रोड पर कुछ लोग नकली जन्म व जाति प्रमाण पत्र और वोटर आईकार्ड बनाने का धंधा कर रहे हैं। इसके बाद एक सिपाही को नकली ग्राहक बनाकर वोटर आईडी कार्ड बनानेे के लिए भेजा। एक हजार रुपये में सौदा तय हुआ। पांच सौ रुपये एडवांस दे दिए गए। अगले दिन अली हसन व राजेश नामक आरोपियों ने सिपाही को आईडी कार्ड तैयार कर दे दिया। पुलिस ने आरोपियों को रंगे हाथों दबोच लिया।

पूछताछ के बाद बाकी आरोपियों को भी दबोेच लिया गया। छानबीन के दौरान इन लोगों ने बताया कि अली और राजेश ग्राहक लेकर आते थे, जबकि कादिर व देव किशोर कंप्यूटर व स्कैनर की मदद से नकली कागजात तैयार करते थे। आरोपियों ने बताया कि वह वोटर आईडी कार्ड के लिए एक हजार रुपये व जन्म व जाति प्रमाण पत्र के लिए पांच से दस हजार रुपये लेते थे। पुलिस ने एक कंप्यूटर, स्कैनर, प्रिंटर, 7 सरकारी दफ्तरों की नकली रबर स्टैंप,
13 जाति प्रमाण पत्र और जन्म प्रमाण पत्र बरामद किए।
 
Top