Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

www.nvrthub.com” चिट फंड (Chit fund) स्कीमों में निवेशकों के फंसे धन की वसूली को बाजार नियामक सेबी जल्द ही ऐसी कंपनियों की जमीन और भवनों की ई-नीलामी शुरू करेगा। वहीं, सारधा चिटफंड घोटाले की तह तक जाने के लिए सीबीआइ ने अब जाने माने पेंटर शुभप्रसन्न को नोटिस भेजा है।
West Bengal Chit Fund Scam: Latest News on West Bengal

केंद्रीय जांच एजेंसी के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शुभप्रसन्न ने सारधा प्रमुख सुदीप्त सेन के हाथों एक चैनल बेचा था। उस चैनल की बिक्री से संबंधित कागजात नौ अक्टूबर को स्वयं या अपने किसी प्रतिनिधि के माध्यम से सीबीआइ के दफ्तर में जमा करने का निर्देश दिया गया है।

सेबी ने हाल के एक मामले में कलकत्ता हाई कोर्ट की ओर से टावर इंफोटेक की जमीन और भवनों की ई-नीलामी करने के आदेश का पालन करते हुए इसकी चार परिसंपत्तियों की बिक्री की प्रक्रिया शुरू करने की पहल की है। इनकी अनुमानित कीमत 17 करोड़ रुपये है। नियामक की ओर से जारी निविदा नोटिस के अनुसार चिट फंड स्कीम संचालित करने वाली कंपनियों की जमीन और भवनों की ई-नीलामी के लिए निविदा आमंत्रित करने की तिथि 27 अक्टूबर तक है। हाई कोर्ट ने सेबी को टावर इंफोटेक की परिसंपत्तियां बेचकर निवेशकों का पैसा वसूलने का आदेश दिया है। निवेशकों के फंसे निवेश की वसूली को नियामक पहली बार ई-नीलामी की प्रक्रिया को अपनाने जा रहा है। कुछ और मामलों में भी नियामक ने भुगतान नहीं करने वाली चिट फंड कंपनियों के शेयर बेचने के आदेश दिए हैं।
 
Top