Menu

फ्री में रु.1000 का मोबाइल रिचार्जे करे, 100% working!

शायद आपने यह कहते हुए सुना होगा या कहा होगा की  ‘मेरे मोबाइल में नेटवर्क नहीं था, मैं रास्ते में हूं, मैं ट्रेफिक में फंसा हुआ हूं, सॉरी, मुझसे आपकी कॉल मिस हो गई।’ यह सब इतने कॉमन झूठ हैं जो आए दिन बोले जाते हैं। यह तो सभी जानते हैं कि यह इंसान ही है जो बहाने बनाने और झूठ बोलने में उस्ताद होता है। लेकिन आपको यह नहीं मालूम होगा महिलाओं से ज्यादा पुरुष झूठ बोलने में माहिर होते हैं।
how to Catch a Liar Men lie more than women, finds survey
झूठ बोलने के मामले में पुरुषों ने महिलाओं को पीछे छोड़ रखा है। कोई इस तथ्य से इत्तेफाक रखे न रखे, लेकिन महिलाएं इस बात को जरूर मानेंगी। इस बारे में किए गए एक अध्ययन के मुताबिक एक पुरुष एक दिन में कम से कम तीन बार झूठ बोलता है। इस हिसाब से एक साल में 1092 झूठ तो हो ही जाते हैं। इस अध्ययन के लिए जितने लोगों से सवाल किए गए थे, उससे यही बात निकलकर आई है कि 82 प्रतिशत महिलाएं वहीं झूठ बोलती हैं, जहां उन्हें जरुरी लगता है, लेकिन 70 फीसदी पुरुष तो झूठ बोलकर भी अपनी गलती स्वीकार नहीं करते हैं।
इस बात का सर्वे करने वाले केटी मैग्स का कहना है कि झूठ बोलना मानव की प्रवृत्ति का वह हिस्सा है, जिसे मिटाया नहीं जा सकता, लेकिन यह भी मान लिया जाना चाहिए कि सामाजिक मेलजोल बढ़ाने के लिए झूठ की अहमियत भी कम नहीं है। झूठ बोलने के पीछे क्या कारण है, क्या यह मानव जीन है या इंसान की खुद की जरूरत। यह खोज का विषय है, जिसके बारे में पर अभी तक कोई विशेष सफलता नहीं मिली है। इसमें कोई दो राय नहीं कि झूठ बोलना भी एक कला और इसमें पुरुषों का कोई मुकाबला नहीं है।

लंदन। महिलाओं के लिए एक राहत भरी खबर है, परिवार नियोजन की जिम्मेदारी लेने की बारी अब पुरुषों की है। वैज्ञानिकों ने पुरुषों के लिए गर्भ निरोधक गोली विकसित करने का दावा किया है। वैज्ञानिक काफी अरसे से पुरुषों के लिए यह गोली विकसित करने का प्रयास कर रहे थे। अब इस्राइली वैज्ञानिकों की एक टीम ने शुक्राणुओं की जैव रसायन मशीनरी को अवरुद्ध करने की एक गोली बनाई है। इसके तहत शुक्राणुओं के उन महत्वपूर्ण प्रोटीन को हटा दिया गया है, जो किसी महिला के गर्भधारण के लिए जरूरी होते हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि यह गोली तीन महीने में केवल एक बार लेनी होगी।
 
Top