Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

आप जीवन में क्या बनना चाहते हैं? सफल होने के लिए इस प्रश्न का उत्तर ढूंढ़ना सबसे जरूरी है। यही तो जीवन का लक्ष्य कहलाता है। लक्ष्य की नहीं होगा, तो किस मंजिल पर पहुंचेंगे आप? आपका लक्ष्य चाहे जो भी हो, उसे प्राप्त करना ही आपके जीवन का उद्देश्य होना चाहिए। जब जीवन से संबंधित अपने उद्देश्यों पर ध्यान देंगे और उसके अनुरूप काम करेंगे, तो सफलता की राहें खुद-ब-खुद बनने लगेंगी।

जीवन का आपने चाहे जो भी उद्देश्य बना रखा हो, मंजिल तक पहुंचने के लिए जरूरी है कि नियमित रूप से उसके लिए प्रयत्नशील रहें। मुझसे अक्सर यह सवाल पूछा जाता है कि सफलता प्राप्त करने के लिए सबसे जरूरी क्या होता है? मैं कहता हूं कि जीवन के लक्ष्य ही व्यक्ति को सफल बनाते हैं। कोई जरूरी नहीं कि व्यक्ति एकदम से बड़ा लक्ष्य ही हासिल कर ले। अपने उद्देश्य के प्रति तत्पर व्यक्ति पहले बहुत से छोटे-छोटे लक्ष्यों को प्राप्त करता है। छोटे-छोटे लक्ष्य को प्राप्त करते हुए वह बड़ा लक्ष्य यानी अपनी मंजिल को प्राप्त कर लेता है। एक बात और, सफलता छोटी हो या बड़ी, उसका उत्सव मनाने से न चूकें। खुद को थपथपाना न भूलें। इससे और आगे बढ़ने की ऊर्जा मिलती रहती है।
खुद को हमेशा ही सफलता के लिए प्रेरित करें। अपनी कल्पना में वह पूरा दृश्य बनाएं कि वह दिन कैसा होगा, जब आप सफल होंगे। इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा। अपनी क्षमता में विश्वास और उत्साह वाकई असरदार होता है, जिससे असंभव काम के भी होने की संभावना नजर आने लगती है। कई बार सफलता के लिए किए गए प्रयास असफल हो जाते हैं। तब क्या आपने जानने की कोशिश की है कि कहीं आपकी कोशिश, अनुशासन, उत्सुकता और ऊर्जा में कोई कमी तो नहीं रह गई?
अपने लक्ष्य को, अपनी योजनाओं को कई बार लिख लेना अधिक कारगर होता है। संभव हो तो इन्हें लिखकर घर में कहीं पर चिपका लें। इससे आपकी नजर हमेशा उन पर पड़ती रहेगी। इसके अलावा समय-समय पर आप अपने प्रयासों का आकलन भी करें। इससे रह गई किसी कमी को दुरुस्त करने की सोच बनी रहेगी। अपने प्रयासों का आकलन आप दैनिक, साप्ताहिक, मासिक अथवा सालाना स्तर पर कर सकते हैं।
कोई भी योजना हमेशा के लिए पूरी योजना नहीं होती। परिस्थितियां बदलती रहती हैं और उसके अनुसार लक्ष्य को लेकर बनाई गई योजनाओं में भी परिवर्तन आता रहता है। वक्त के साथ चलना सफलता के लिए बेहद जरूरी है। ऐसे में अपने स्वभाव में लचीलापन बनाए रखते हुए अपने उद्देश्य के प्रति गंभीर बने रहें।
 
Top