Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

Agriculture Sector के बदले माहौल का परिणाम है कि अन्य क्षेत्रों की ही तरह Agriculture सेक्टर भी युवाओं को काफी आकर्षित कर रहा है। इसकी मुख्य वजह यह है कि परंपरागत कृषि तक ही सीमित न रहने की बजाय इस Sector का आज काफी विस्तार हुआ है और अब इसमें कई तरह के Career विकल्प Students के लिए उपलब्ध होने लगे हैं। वैसे भारत को आज भी कृषि प्रधान देश कहा जाता है, क्योंकि Computer के इस जमाने में भी कृषि क्षेत्र की आज भी प्रधानता है और देश की जनसंख्या का अधिकांश हिस्सा जीविकोपार्जन के लिए कृषि और इससे संबंधित Career Options पर ही आधारित है। शिक्षा से संबंधित शर्तों को पूरा करके आप भी अपनी इच्छानुसार कृषि से जुड़े किसी विकल्प को अपने कॅरियर निर्माण का आधार बना सकते हैं।

एग्रीकल्चर (Agriculture courses after 12th)

विभिन्न संस्थानों में कृषि से संबंधित Graduation और PG Level के Course उपलब्ध हैं। Science Stream से 12वीं उत्तीर्ण विद्यार्थी Graduation के लिए apply कर सकते है। इसके बाद PG (Post Graduation Course) में दाखिला लिया जा सकता है।
  • बिहार एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, भागलपुर
  • www.bausabour.ac.in/
  • पंजाब एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, लुधियाना

एग्री-बिजनेस मैनेजमेंट (Agricultural Business Management)

कृषि का कारोबारी स्वरूप बन जाने के कारण इससे संबंधित सभी जरूरतों को Agricultural Business Management के माध्यम से पूरा किया जाता है। इससे संबंधित professionals इस बात का ध्यान रखते हैं कि किस तरह कृषि उत्पादनों को आधुनिक जरूरतों के अनुसार उपयोगी बनाया जा सके। इसके तहत कृषि उत्पादन से जुड़े विभिन्न संसाधनों को शामिल किया जाता है, जैसे कृषि उपकरण, बीज, ऊर्जा, खाद्य पदार्थ आदि। इतना ही नहीं, इसके तहत Packaging, Storage, Processing, Transportation, Insurance, Marketing आदि कई सेवाएं शामिल होती हैं। एग्री-बिजनेस मैनेजमेंट के अधिकांश Course Post Graduation स्तर के ही हैं।
  • कॉलेज ऑफ एग्री-बिजनेस मैनेजमेंट, जीबी पंत यूनिवर्सिटी, पंतनगर
  • कॉलेज ऑफ एग्री-बिजनेस मैनेजमेंट, पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, लुधियाना

एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग (What is Agricultural Engineering)

कृषि के क्षेत्र में भी उत्पादकता बढ़ाने के लिए ही Agricultural Engineering जैसे विषय की शुरुआत हुई। कृषि उपकरणों को बनाने के अलावा इसकी मदद से कृषि से संबंधित अन्य समस्याओं को सुलझाया जाता है। BE/B tech in agricultural engineering, Diploma in Agricultural Engineering आदि इस क्षेत्र से संबंधित Courses हैं। Physics, Chemistry अथवा Biology से 12वीं उत्तीर्ण विद्यार्थी Agricultural Engineering के लिए आवेदन कर सकते हैं। JEE (Mains / Advances) के माध्यम से IIT संस्थानों में प्रवेश मिलता है।
  • इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चरल साइंस, बीएचयू, वाराणसी
  • http://www.bhu.ac.in/ias/
  • चंद्रशेखर आजाद यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी, कानपुर

प्लांट पैथोलॉजी (What is plant pathology in Hindi)

Plant pathology के तहत वनस्पतियों के विभिन्न रोगों का अध्ययन किया जाता है। इसके तहत bactrea, फंगस, Virus माइक्रोब्स आदि पर गहन शोध किया जाता है, ताकि पेड़-पौधों को विभिन्न बीमारियों से बचाया जा सके। गौरतलब है कि उत्कृष्ट कृषि उत्पादन के लिए पेड़-पौधों का रोगरहित होना जरूरी है।
  • यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चरल साइंस, बेंगलुरु
  • पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, लुधियाना
  • www.pau.edu/a

डेयरी टेक्नोलॉजी (Engineering in Dairy Technology Courses in India)

दूध और इससे बने पदार्थों की खपत और उपयोगिता के मद्देनजर देश की एग्रो-बेस्ड अर्थव्यवस्था में भी Dairy Industry का महत्वूपर्ण स्थान है। इससे संबंधित कोर्स में Dairy Products, Dairy equipment, Milk production, Milk Processing and packaging, Dairy Management आदि की जानकारी दी जाती है। साथ ही इंश्योरेंस और मार्केटिंग के बारे में भी बताया जाता है।
  • आनंद एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, आनंद
  • नेशनल डेयरी रिसर्च इंस्टीट्यूट, करनाल

फ्लोरीकल्चर (Floriculture industry in india)

Floriculture के तहत फूलों के उत्पादन को बढ़ाने के साथ-साथ इसके कारोबारी विस्तार की समस्त बारीकियां बताई जाती हैं। विभिन्न संस्थानों में Floriculture से संबंधित पाठ्यक्रम Degree, Diploma और Certificate के रूप में उपलब्ध हैं। फूलों की खेती, किस्मों का विकास, फूलों का रखरखाव, पैकेजिंग और उनकी Marketing से संबंधित विषयों की पढ़ाई इसके तहत होती है।
  • कॉलेज ऑफ हॉर्टीकल्चर एंड फॉरेस्ट्री, अरुणाचल प्रदेश
  • http://eastsiang.nic.in/
  • कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी, कुरुक्षेत्र
  • www.kuk.ac.in

सेरिकल्चर (SericultureTRAINING INSTITUTE)

रेशम उत्पादन से संबंधित Sericulture कृषि क्षेत्र से जुड़ा एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है। Physics Chemistry और Biology से 12वीं उत्तीर्ण विद्यार्थी Sericulture से जुड़े पाठ्यक्रमों में दाखिला ले सकते हैं। Bsc in Sericulture, Bsc in Silk Technology आदि इस विषय से संबंधित खास कोर्स हैं।
  • सेंट्रल सेरिकल्चर रिसर्च एंड ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट, मैसूर
  • www.csrtimys.res.in
  • शेर-ए-कश्मीर यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर साइंस एंड टेक्नोलॉजी, जम्मू

रूरल मैनेजमेंट (rural management courses)

देश का विकास तभी संभव है, जब शहरों की ही तरह ही गांवों का भी विकास हो और वहां भी लोगों को शहरों की तरह ही तमाम सुविधाएं मिलें। Rural management का संबंध गांवों के संतुलित विकास से ही है। इसके तहत विभिन्न ग्रामीण क्रियाकलापों को व्यवस्थित रखने की बारीकियां बतलाई जाती हैं। किसी भी संकाय से Graduate अभ्यर्थी इससे संबंधित पाठ्यक्रमों में प्रवेश ले सकते हैं।
  • इंस्टीट्यूट ऑफ रूरल मैनेजमेंट, आनंद
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ रूरल मैनेजमेंट, जयपुर

7 comments:

  1. Agriculture science is identified with the different sciences as herbal science, dairy science, sociology, financial matters, pathology, designing, nourishment science, soil science and science. Online Basmati Rice

    ReplyDelete
  2. This short article will explore the current trend for agricultural investments. We will take under investigation different modes of agricultural investment and how agriculture as investment has performed, the return on investment that can be expected, and we will also look at the relevant risks associated with this type of investment. agriculture algerie

    ReplyDelete
  3. 12th physics chemistry maths se pass krne pr hum agricture field me carreer bna skte hai ??

    Kya agriculture line me jane k liye 12th me biology lene necessary hai ? Plzz reply

    ReplyDelete
  4. Forestry and Deutz Parts Manual equipment financing is essential to buy land clearing equipments, mill equipments and other equipments. Agriculture and forestry largely depends upon heavy equipments in order to accomplish the related tasks easily. These equipments are generally expensive and hence require forestry and agricultural equipment financing.

    ReplyDelete
  5. Commodity ETFs (exchange traded funds) seem to be doing well, but agriculture ETFs are doing better than well. Over all of the exchange traded funds on the market one in particular is flying high. PowerShares DBA ETF has shown more than 50% return since January, 2007, when this ETF was introduced. During the same period S&P 500 was down more than 5%. Mandi Bhav Today

    ReplyDelete
  6. Thanks for the blog loaded with so many information. Stopping by your blog helped me to get what I was looking for. https://ejemplosmaterialesconstruccion.blogspot.com/

    ReplyDelete

 
Top