Menu

फ्री में रु.1000 का मोबाइल रिचार्जे करे, 100% working!

मैं भौतिक विज्ञान में बी.एस.सी सेकेंड ईयर का छात्र हूं। मेरी रुचि फॉरेंसिक साइंस में है। मेरे बी.एस.सी. उत्तीर्ण होने के बाद क्या मैं फॉरेंसिक मेडिसिन से पी.जी. डिप्लोमा कर सकता हूँ?
- राघव सेठ
आपकी बी.एस.सी. की डिग्री आपको पी.जी. डिप्लोमा पाठ्यकृम में एम.बी.बी.एस. में एडमिशन कराने के लिए पात्रता प्रदान नहीं करती है। जबकि दो ऐसे प्रोग्राम भी हैं जिनमें एम.एस.सी. की पात्रता अनिवार्य होती है। आपकी पात्रता और आपकी रुचि के अनुसार आपको क्रिमिनोलाजी व फॉरेंसिक साइंस में डिप्लोमा या डिग्री कोर्स चुनना चाहिए। सामान्यतः, ये कोर्स क्राइम सीन के फॉरेंसिक इनवेस्टिगेशन, फॉरेंसिक फोटोग्राफी, फॉरेंसिक टॉक्सिकोलॉजी, फॉरेंसिक सेरोलॉजी, फिंगरप्रिंट एनालिसिस,क्रिमिनल प्रोफाइलिंग, ड्रग डिटेक्सन, लाई डिटेक्सन, फायर मैन आइडेंटिफिकेशन, साइबर क्राइम आदि हैं। यदि आप चाहें तो पंजाब यूनीवर्सिटी, पटियाला या चेन्नई यूनीवर्सिटी, दिल्ली की गुरुगोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनीवर्सिटी के जे.एन.जे.एन, नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ क्रिमिनोलॉजी एंड फॉरेंसिक साइंस, रोहिनी से फॉरेंसिक साइंस में एम.एस.सी. कर सकते हैं। क्रिमिनोलॉजी में एम.ए. या एम.एस.सी. व फॉरेंसिक साइंस में एम.एस.सी. करने के लिए बी.एस.सी. होना अनिवार्य है। फॉरेंसिक साइंस में डिप्लोमा कोर्स के अतिरिक्त दिल्ली और एमिटी यूनीवर्सिटी से क्रिमिनोलॉजी व फॉरेंसिक साइंस से डिप्लोमा भी कर सकते हैं।
Forensic Science courses

Career In Forensic Science

आप अलग से क्लीनिकल टेक्लिकोलॉजी (प्वॉइजन, उसके प्रभाव व उपचार) भी ले सकते हैं या आप नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ फार्मास्युटिकल एजुकेशन एवं रिसर्च से फार्माकोलॉजी व टॉक्सिकोलॉजी में मास्टर्स कर सकते हैं। एस.ए.एस. नगर, मोहाली या जामिया हमदर्द, दिल्ली से एम.एस.सी. टॉक्सिकोलॉजी, या इनवायरमेंटल टॉक्सिकोलॉजी में एम.एस.सी. डॉ. अंबेडकर युनिवर्सिटी, आगरा, मद्रास या चेन्नई युनिवर्सिटी से कर सकते हैं।
स्नातक के बाद मैंने जर्मन भाषा का कोर्स किया है। इसके बाद मैं पिछले दो वर्षों से ट्रैवेल एजेंसी में काम कर रही हूं। लेकिन में जॉब के साथ-साथ एक शॉर्ट-टर्म कोर्स करना चाहती हूं। क्या जर्मन भाषा से संबंधित कोई मान्यताप्राप्त कोर्स है? - तासु
अगर आप किसी स्कूल, कॉलेज या पेशेवर भाषा से संबंधित संस्थान से जर्मन भाषा पढ़ना चाहती हैं, तो इग्नू एक ऐसा संस्थान है जो विएना यूनिवर्सिटी, गोयदे यूनिवर्सिटी के साथ सहयोग कर जर्मन भाषा में पीजी डिप्लोमा कोर्स उपलब्ध करवाता है। इस कोर्स से जुड़ने के लिए किसी भी क्षेत्र में स्नातक और जर्मन भाषा का ज्ञान होना जरूरी है। चार भागों में बंटा यह कोर्स डिस्टेंस मोड के हिसाब से सेल्फ स्टडी के लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है। 720 घंटे के इस कोर्स में 240 घंटे का शिक्षक संबंधी प्रशिक्षण दिया जाता है। गोयदे यूनिवर्सिटी की शाखाएं - नई दिल्ली, पूणे, चेन्नई, मुंबई, बंगलुरु और कोलकत्ता में है। सामान्यतः यह कोर्स 1-3 वर्ष का होता है। यह कोर्स जनवरी, माह में शुरु होता है, जिसकी फीस 7,000 रुपये है।

0 comments:

Post a Comment

 
Top