Menu

फ्री में रु.1000 का मोबाइल रिचार्जे करे, 100% working!

मैं बीई अंतिम (B.E. Final) वर्ष का छात्र हूं और इसरो में काम करना चाहता हूं। - रविंद्र सक्सेना
जवाबः इसरो समय-समय पर वैज्ञानिक और इंजीनियर के पदों पर भर्ती के लिए विज्ञप्ति जारी करता है। आपने यह नहीं बताया है कि इंजीनियरिंग में आपकी स्ट्रीम क्या है। इसरो द्वारा प्रत्येक वर्ष आयोजित की जाने वाली परीक्षा में बैठने के लिए बीई/बीटेक किए उम्मीदवारों के न्यूनतम शैक्षणिक अंक 65 प्रतिशत होने चाहिए। वहीं इलेक्ट्रॉनिक्स मैकेनिकल और कंप्यूटर साइंस स्ट्रीम के अभ्यर्थी ही इस परीक्षा में बैठने के पात्र हैं। इससे संबंधित जानकारी आप इसरो की वेबसाइट www.isro.gov.in से प्राप्त कर सकते हैं।
मैं एक ग्रामीण इलाके के इंटर कॉलेज में 11वीं का छात्र हूं। मेरी रुचि एग्रीकल्चर में है। क्या मैं एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग कर अच्छा करियर बना सकता हूँ?
- शिवेंद्र कुमार 

जवाबः यह बहुत अच्छी बात है कि आप देश की रीढ़ समझे जाने वाले कृषि में करियर बनाने की इच्छा रखते हैं। दुनिया के अन्य देशों की तुलना में हमारा देश खाद्यान्न के मामले में पूरी तरह से आत्मनिर्भर है और यही कारण है कि आज भी हमारी 68 प्रतिशत आबादी कृषि कार्यों से जुड़ी है। आप इस क्षेत्र में डिग्री प्राप्त करके भारीतीय कृषि अनुसंधान परिषद, कृषि विश्वविद्यालय, कृषि इंजीनियरिंग, आईसीआरआईएसएटी जैसी संस्थाओं में उच्च पदों पर नौकरी के अवसर प्राप्त कर सकते हैं। इस क्षेत्र में विभिन्न कोर्स कराने वाले संस्थानों में भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली, जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, (जे.एन.के.वी.वी.), जबलपुर, मध्य प्रदेश, केरल कृषि विश्वविद्यालय (के.ए.यू.), उदयपुर, राजस्थान इत्यादि प्रमुख संस्थान हैं।


मैंने बीए (BA) किया है। आगे मैं वकील बनना चाहती हूं। कृपया उचित सलाह दें कि मुंझे क्या करना चाहिए? - शिप्रा चौहान 

जवाबः आप तीन साल के एलएलबी कोर्स में प्रवेश ले सकती हैं। इस कोर्स में दाखिले के लिए कुछ विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा का आयोजन करते हैं, जबकि कुछ स्नातक के अंकों के आधार पर तैयार की गई मेरिट सूची के अनुसार प्रवेश देते हैं। कोर्स पूरा करने के बाद आपको इंटर्नशिप पूरी करनी होती है और अंत में एडवोकेट्स एक्ट, 1961 के तहत स्वयं को बार काउंसिल ऑफ इंडिया में पंजीकृत कराना होगा, जिसके बाद आप देश की किसी भी कोर्ट में वकील के तौर पर काम करने के योग्य हो जाएंगी। आप एलएलएम करके वकालत में उच्च अध्ययन भी कर सकती हैं।

मैं 10वीं पास हूं भविष्य में आईएएस (IAS) बनना चाहता हूं। अत: मुझे 12वीं किस विषय  से करनी चाहिए? - राम सिंह 

जवाबः आईएएस अधिकारी बनने के लिए पहले आप अपनी बारहवीं के पश्चात व स्नातक की पढ़ाई पूरी करनी पड़ेगी क्योंकि आईएएस की परीक्षा के लिए स्नातक की डिग्री अनिवार्य होती है। बेहतर होगा कि विषय का चुनाव करते समय आप अपनी रुचि व आईएएस परीक्षा का ध्यान अवश्य रखें। इसके लिए आप विशेषज्ञों की सलाह लें। इससे आपके दो फायदे होंगे पहला आप उस विषय में अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे और दूसरा आईएएस मुख्य परीक्षा में उसे अपने वैकल्पिक विषय के रूप में चुन सकेगें ।


मैं बीए कर रहा हूं। मैं जानना चाहता हूं कि आईएएस बनने के लिए एमए करना सही होगा? - शिवप्रताप 

जवाबः यूपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा के लिए न्यनतम शैक्षिक योग्यता स्नातक (बीएससी/ बीए/ समकक्ष) और न्यूनतम आयु 21 वर्ष निर्धारित है। अतः आप बीएससी पूरी करने के बाद भी सिविल सेवा परीक्षा क्वालीफाई कर सकते हैं। आपको अभी से एनसीईआरटी के इतिहास, भूगोल, विज्ञान, अर्थशास्त्र आदि विषयों की कक्षा 8 से 11 तक की पुस्तकों का अध्ययन आरंभ कर देना चाहिए जो कि भविष्य में इस परीक्षा में शामिल होते समय आपके लिए फायदेमंद होगा। इसके अलावा अकादमिक योग्यता को बढ़ाने के लिए एमएससी करना भी एक अच्छा विकल्प है।

मैंने 12वीं कॉमर्स से पास की है और सीएस की तैयारी । करना चाहती हूं। मैं अभी से सीएस की तैयारी करुं या स्नातक के बाद? - सरिता यादव 

जवाब : सीएस कोर्स के लिए तीन स्तर की परीक्षाओं को पास करना जरूरी होता है। उम्मीदवारों को दूसरे चरण की परीक्षा पास करने के बाद प्रैक्टिकल जरूरत होती है। सीएस का प्रोफेशनल प्रोग्राम पूरा होने के बाद आप आईसीएसआई के एसोसिएट मेंबर बन जाएंगी। यदि आप स्नातक करने के बाद सीएस करना चाहती हैं, तो सीधे एग्जीक्यूटिव प्रोग्राम और प्रोफेशनल प्रोग्राम्स और प्रैक्टिकल ट्रेनिंग का हिस्सा बन सकती हैं। प्रवेश की बात करें, तो 12वीं पास करने के बाद जून और दिसंबर में तीन स्तरीय परीक्षा का आयोजन किया जाता है, जबकि स्नातक के बाद सीधे एग्जीक्यूटिव प्रोग्राम के लिए आवेदन किया जा सकता है।

0 comments:

Post a Comment

 
Top