Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

मैं इतिहास विषय के साथ ग्रेजुएशन कर रही हूं। क्या आप मुझे जानकारी दे सकती हैं कि क्यूरेटर का कार्य किस प्रकार का होता है?
रंजना आहुजा

  • जवाबः क्यूरेटर्स म्यूजियम, आर्ट गैलरी या निजी संग्रह (प्राइवेट कलेक्शन) के मामलों का प्रशासन करते हैं। ये इंस्टीट्यूशनल (संस्थागत), अनुसंधान एवं संस्थान की लोक सेवा गतिविधियों का निर्देशन करते हैं।
  • विशेष अनुसंधान परियोजनाओं की प्लानिंग करना एवं संचालन करना।
  • म्यूजियम की सेवाएं बढ़ाने एवं वित्तपोषण की तलाश के लिए मीटिंग, सम्मेलन एवं सिविक इवेंट (नागरिक घटनाओं) में भाग लेना। । म्यूजियम की सुविधा एवं सामग्री के साथ परिचित विजिटर्स एवं स्कॉलर्स के लिए टूर, वर्कशॉप्स एवं | इंस्टीट्यूशनल सेशंस का आयोजन एवं संचालन करना।
  • कैटलॉग एवं बुनियादी रिकॉर्ड रखने वाली प्रणाली को विकसित करना एवं बनाए रखना।
  • स्टाफ की को-ऑर्डिनेटिंग एवं सुपरवाइजिंग करना। 1 ऋण पर कला वस्तुओं के लिए इंश्योरेंस कवरेज व्यवस्थित करना या विदेश में विशेष प्रदर्शन करना।
  • क्यूरेटर के तौर पर आपका विशिष्ट कार्य इस प्रकार से। होगा
  • अनुदान प्रस्तावों, आर्ट जर्नल्स में लेख, संस्थागत रिपोर्ट एवं प्रचार (पब्लिसिटी) सामग्री को लिखना एवं समीक्षा करना।
  • खरीद, बिक्री, अदला-बदली या ऋण के संग्रह के लिए बातचीत को अधिकृत करना।
  • प्लानिंग और संग्रह करना, भंडारण एवं संबंधित सामग्री जैसे कैटलॉग, मोनोग्राफ्स आदि को नियोजित कर प्रदर्शित करना। । उसके उद्भव, संरचना, इतिहास एवं वर्तमान मूल्य को प्रमाणित करने के लिए अधिग्रहण की जांच एवं परीक्षण करना। L नीतियों एवं बजट की जरूरत का निर्धारण करने एवं संपूर्ण परिचालन के प्लान को फॉर्मूलेट एवं एंटरप्रेट करना एवं बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के साथ बातचीत करना।
  • क्यूरेटर्स म्यूजियम, आर्ट गैलरी या निजी संग्रह (प्राइवेट कलेक्शन) के मामलों का प्रशासन करते हैं।
  • ये इंस्टीट्यूशनल (संस्थागत), अनुसंधान एवं
  • संस्थान की लोक सेवा । गतिविधियों का निर्देशन
  • करते हैं...
मैंने बीटेक किया है और आईटी कंपनी में काम करता हूं। अब मैं यह जॉब छोड़कर विज्ञापन के क्षेत्र में जाना चाहता हूं। क्या मेरा यह निर्णय सही है?
| - शुभम त्रिपाठी

जवाबः नौकरी बदलने का निर्णय अपनी समझ पर निर्भर करता है। इंडस्ट्री छोड़ने से लेकर अपने अंतिम निर्णय से पहले आपका अगला रास्ता सुनिश्चित हो जाना चाहिए। कई बार क्या होता है कि, कुछ कारणों से जो नौकरी आप छोड़कर जाते हैं, वहां आपके लिए दरवाजे हमेशा खुले हो सकते हैं, लेकिन जरूरी नहीं कि हमेशा ऐसा हो। इसलिए
आपको सारी चीजों को ध्यान में रखते हुए और सभी स्थितियों को नाप-तौल कर सावधानीपूर्वक अंतिम निर्णय तक पहुंचना होगा।

0 comments:

Post a Comment

 
Top