Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

memory size of our mind brain

संसार मे ईश्वर ने इंसान को सबसे प्रखंड मस्तिष्क दिया है. इस प्रकृति में मनुष्य तथा हर प्राणी का मस्तिष्क सबसे जटील वस्तु है. जिसका रहस्य आज तक कोई नहीं लगा पाया है. क्योंकि इंसान का मस्तिष्क इतने सारे कार्य एक साथ करता है. जिसकी हम कल्पना भी नहीं कर सकते हैं।

how much memory in our mind

मस्तिष्क हर कार्य के लिए इंसान के चेहरे पर हाव भाव लाता है. जिसे हम सेंस अथवा फीलिंग कहते हैं. जब आप दुःखी या ख़ुश होते हैं. तो आपका मस्तिष्क आपके चेहरे पर भाव उत्पन्न करता है. जिसे देखकर आप समझ सकते है. कि यह इंसान खुश या दुःखी है।

brain memory

memory of brain size

यदि इंसान की मेमोरी की बात करे तो गूगल अपने पूरे जीवन मे जितना डेटा सुरक्षित कर पायेगा, उतना डेटा इंसान अपनी 2 लाख GB में सुरक्षित कर सकता है. परन्तु विडम्बना यह है. इंसान अपने मस्तिष्क को अन्य जगह लगाता है. जिसके कारण हमारी मेमोरी में विकार उत्पन्न हो जाते हैं. ओर इंसान की मेमोरी खराब होने लगती हैं।

प्रतिदिन विज्ञान जगत की रहस्यम ख़बरे पढ़ने के लिए आप Share comment जरूर करें।

0 comments:

Post a Comment

 
Top