Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बुधवार को लक्ष्मी विलास बैंक के साथ इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस के प्रस्तावित विलय की योजना को रद कर दिया। बैंक ने शेयर बाजारों को दी गई एक सूचना में कहा कि आरबीआई ने नौ अक्टूबर 2019 के पत्र के जरिये सूचित किया है कि लक्ष्मी विलास बैंक के साथ इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड और इंडियाबुल्स कॉमर्शियल क्रेडिट लिमिटेड के स्वैच्छिक विलय के आवेदन को मंजूरी नहीं दी जा सकती है।

बैंक ने इस विलय की मंजूरी के लिए सात मई 2019 को आरबीआई को आवेदन किया था। पिछले महीने आरबीआई ने बैंक को त्वरित सुधारात्मक कार्रवाई (पीसीए) के अंतर्गत डाल दिया था। यह कार्रवाई ऊंचे एनपीए, जोखिम से निपटने के लिए पूंजी की अपर्याप्तता और लगातार दो साल संपत्ति पर नकारात्मक रिटर्न को देखते हुए की गई है।

Previous articleविश्व स्वास्थ्य सप्ताह: कोचिंग छात्रों ने बैनर पर लिखी मन की बात
Next articleअमेजन और फ्लिपकार्ट को वाणिज्य और उद्योग मंत्री ने किया तलब



source https://lendennews.com/archives/60190

0 comments:

Post a Comment

 
Top