Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

जयपुर। प्रदेश में क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटियाें की ओर से निवेशकों को ठगे जाने के सैकड़ाें मामले हर रोज सरकार के सामने आ रहे हैं। ऐसे में सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए आरबीआई को पत्र लिखकर इनके बैंक खातों को सीज करने के लिए कहा है।

केंद्र सरकार की ओर से क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसायटियों की धोखाधड़ी को रोकने के लिए इसी साल ‘द बैनिंग ऑफ अनरेग्यूलेटेड डिपोजिट स्कीम एक्ट 2019’ लाया गया है। इसके बाद राजस्थान सरकार ने भी क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटियाें की शिकायत के लिए पोर्टल शुरू किया। मंगलवार शाम तक इस पोर्टल पर करीब 2769 शिकायतें दर्ज हुई। इनमें कुल 96.75 करोड़ रुपए के वित्तीय धोखाधड़ी के आरोप लगे हैं। इसमें 2751 शिकायतें मल्टीस्टेट क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटीज के खिलाफ दर्ज हुई हैं।

सहकारिता रजिस्ट्रार डॉ. नीरज के पवन की ओर से आरबीआई को लिखे गए पत्र में 26 जिलाें की करीब 18 साेसायटियाें के बैंक खातों में जमा रकम की जानकारी मांगी है। इसके अलावा इन खातों को सीज करने के लिए भी कहा है। प्रदेश में इस समय करीब 1200 क्रेडिट कोआपरेटिव सोसायटी काम कर रही हैं।

इनमें से करीब 70 मल्टीस्टेट हैं और शेष स्टेट लेवल की सोसायटी हैं। मंगलवार शाम तक राज्य सरकार के पोर्टल पर प्राप्त 2769 शिकायताें में से 2751 शिकायतें मल्टीस्टेट क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटीज के खिलाफ हैं। इसके अलावा 18 शिकायतें स्टेट क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटीज के खिलाफ हैं।

सबसे ज्यादा शिकायतें आदर्श साेसायटी के खिलाफ
प्रदेश में सबसे ज्यादा शिकायतें आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी के खिलाफ दर्ज हैं। दूसरे नंबर पर संजीवनी क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी है। इनके अलावा आदित्य को-ऑपरेटिव सोसायटी, असरा को-ऑपरेटिव सोसायटी, अमरदीप को-ऑपरेटिव सोसायटी, भविष्य को-ऑपरेटिव सोसायटी, नवजीवन को-ऑपरेटिव सोसायटी, सहारा को-ऑपरेटिव सोसायटी, सहारायन यूनिवर्सल मल्टीपर्पज सोसायटी लि., समृद्धा जीवन मल्टी स्टेट मल्टी पर्पज क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी, श्री कोटेश्वर अरबन क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी, अथर्व क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी, आस्था को-ऑपरेटिव सोसायटी, एमआरबी को-ऑपरेटिव सोसायटी बेडा, एसबीबीजे कर्मचारी बचत एवं साख सहकारी समिति लि., मारवाड़ क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लि. बाड़मेर चौहटन व श्री क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी लि.बाड़मेर शामिल है।

बाड़मेर पहले नंबर पर
जयपुर सहित 26 जिलों से जाे 2769 शिकायतें मंगलवार शाम तक सरकार के पास ऑनलाइन दर्ज हुई हैं। इनमें सबसे ज्यादा 639 शिकायतें बाड़मेर से हैं। जोधपुर में क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटीज के खिलाफ 342 शिकायतें मिली हैं। सिरोही में संचालित क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटीज के खिलाफ 11.40 करोड़ रुपए से ज्यादा के फ्रॉड की 243 शिकायतें दर्ज हुई हैं। जयपुर में संचालित क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटीज के खिलाफ 158 शिकायतें दर्ज हैं। जालौर में 65, भीलवाड़ा में 142, अजमेर में 70 से ज्यादा शिकायतें दर्ज हुई हैं।



source https://lendennews.com/archives/61800

0 comments:

Post a Comment

 
Top