Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

नई दिल्ली।गुड्स ऐंड सर्विसेज टैक्स (GST) रिफंड का ऑनलाइन प्रॉसेस शुरू हो गया है। इसके चलते कारोबारियों के बैंक अकाउंट में जीएसटी रिफंड सीधे पहुंच रहा है। जीएसटीएन के सीईओ प्रकाश कुमार का कहना है कि जीएसटी रिफंड को लेकर जितनी शिकायतें थीं, वे सब दूर हो जाएंगी। हम चाहते हैं कि जीएसटी रिफंड जितनी जल्दी हो सके, कारोबारियों को मिले। जो भी कारोबारी सही तरीके से जीएसटी रिटर्न फाइल करेगा, उसको उतनी जल्दी रिफंड दिया जाएगा।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारामण ने छोटे कारोबारियों को 30 दिन में अटके जीएसटी रिफंड दिलाने का वादा किया था। उन्होंने यह भी कहा था कि अब जीएसटी रिफंड में ज्यादा देरी नहीं होगी। ऑनलाइन रिफंड जल्द मिलने शुरू हो जाएंगे। प्रकाश कुमार ने कहा कि जीएसटी के लागू होने से इनडायरेक्ट टैक्स में जटिलता काफी कम हुई है।

जीएसटी के क्रियान्वयन से कारोबारियों द्वारा भरे जाने वाले फार्म की संख्या घटकर नाममात्र रह गई है, जबकि इससे पहले विभिन्न केंद्रीय और राज्य कानूनों के तहत 495 फार्म तक भरने होते थे। अब हमने रिफंड को ऑनलाइन कर दिया है।

इससे कारोबारियों को रिटर्न भरने के साथ रिफंड पाने में किसी प्रकार की तकलीफ नहीं होगी। जीएसटी नेटवर्क केंद्र, राज्य सरकारों, टैक्सपयेर्स और अन्य स्टेकहोल्डर्स के लिए आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर और सर्विस मुहैया कराता है।



source https://lendennews.com/archives/61533

0 comments:

Post a Comment

 
Top