Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

कोटा। कोटा व्यापार महासंघ के महासचिव अशोक माहेश्वरी ने कोटा स्टोन और सेंड स्टोन के वेस्ट से तैयार उत्पादों को सरकार से GST से मुक्त करने की अपील की है। ताकि वेस्ट का और अधिक उपयोग हो और हाड़ौती क्षेत्र में रोजगार में बढ़ोतरी हो सके।

वे गुरुवार को कोटा स्टोन मर्चेंट विकास समिति की ओर से आयोजित दीपावली मिलन समारोह अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सेंड स्टोन एवं कोटा स्टोन फैक्ट्रियों से निकलने वाली स्लेरी एवं पत्थर के मलवों से कई तरह की निर्माण सामग्री रेत, गिट्टी, ईंटे, टाईल्स, आदि बनाई जा रही है। वर्तमान में रेत पर चल रही पाबन्दी के चलते उद्यमियों ने स्टोन के वेस्ट से रेत बनाना शुरू कर दिया है, लेकिन इन पर सरकार द्वारा 18 प्रतिशत GST.वसूल रही है।

उद्यमियों ने महंगी मशीने लगाकर सस्ती दरों पर भवन निर्माण सामग्री उपलब्ध कराई है। उद्योग एवं खनन क्षेत्र में मलवें के ढ़ेरों को समाप्त कर पर्यावरण को भी व्यवस्थित किए जाने के प्रयास किए। अतः इन पर GST समाप्त किया जाना चाहिए। जिससे इस वेस्ट का और अधिक उपयोग हो सकें और हाड़ौती में रोजगार में बढ़ोतरी हो सकें।

सेण्ड खनन व्यवसाय को ओवरलोड कानून में स्पेशल छूट मिले
माहेश्वरी ने कहा कि वर्तमान में ओवरलोडिंग के नाम पर खनन व्यवसायी एवं उद्यमी भारी परेशानियों का सामना कर रहे है। पत्थर व्यवसाय में ओवरलोड कानून नासूर की तरह है। पूरे राज्य में खनन व्यवसाय अपने आप में बहुत बड़ा व्यवसाय है, जो पूरे देश में पत्थर, मार्बल, ग्रेनाइट का व्यवसाय संचालित करता है और सरकार को सबसे ज्यादा रेवेन्यू देता है। अतः इस उद्योग एवं खनन व्यवसाय को सरकारी स्तर पर विशेष छूट दी जानी चाहिए।

मुख्य अतिथि कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रान्ति जैन ने कहा कि कोटा स्टोन एवं सेण्ड स्टोन हाड़ौती क्षेत्र का प्रमुख व्यवसाय है, और इस व्यवसाय से ग्रामीण क्षेत्र और औधोगिक क्षेत्र में करीब पाँच लाख व्यक्तियों को रोजगार मिलता है, उन्होंने राज्य सरकार एवं केन्द्र सरकार से वर्तमान में चल रही आर्थिक मंदी के चलते इस व्यवसाय में प्रोत्साहन देने का आग्रह किया।

स्टोन मर्चेन्ट विकास समिति के अध्यक्ष विजय केडिया, सचिव रविन्द्र जैन, उपाध्यक्ष शिव कुमार गुप्ता ने कहा कि कोटा व्यापार महासंघ के आव्हान पर हमारी संस्था द्वारा इस मिलन समारोह में किसी भी तरह का प्लास्टिक का उपयोग नही किया गया है।

इस अवसर पर स्टोन मर्चेन्ट विकास समिति के पूर्व अध्यक्ष उत्तम अग्रवाल, सचिव राकेश पाटोदी, कोटा व्यापार महासंघ के सलाहकार बोर्ड के निदेशक घनश्याम गुप्ता, पारस जैन, हाड़ौती कोटा स्टोनइंडस्ट्रीज के पूर्व अध्यक्ष राजेन्द्र जैन सहित हजारों की तादात में सेण्ड एवं कोटा स्टोन व्यापारी मौजूद थे।

समारोह में कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रान्ति जैन एवं महासचिव अशोक माहेश्वरी ने समारोह में मौजूद सभी व्यवसायों को सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नही करने की शपथ दिलाई।



source https://lendennews.com/archives/61855

0 comments:

Post a Comment

 
Top