Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

कोटा। राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय ओलंपियाड के प्रथम चरण नेशनल स्टैंडर्ड एग्जामिनेशन रविवार को कोटा में दस परीक्षा केंद्र पर आयोजित की गई । इसमें फिजिक्स, कैमिस्ट्री, बायोलॉजी, एस्ट्रोनॉमी के पेपर हुए। सभी पेपर कुल 240 अंकों के थे।

एक्सपर्ट देव शर्मा ने बताया कि इसमें फिजिक्स अन्य स्टैंडर्ड एग्जामिनेशन के सापेक्ष थोड़ा भिन्न था। कुछ चौंकाने वाले प्रश्नों में से एक प्रश्न में ऐसे ग्रह का नाम पूछा गया, जहां सूर्य उदय पश्चिम में होता है। इसी प्रकार ग्रहों का ऐसा युग्म जो मध्यरात्रि को अदृश्य हो जाता है। फिजिक्स के पेपर में डिफ्रेक्शन ग्रेटिंग, थॉमसन इफेक्ट से संबंधित प्रश्नों ने विद्यार्थियों को उलझाया।

केमिस्ट्री इन एवरिडे लाइफ से संबंधित प्रश्नों में खासा सिर खपाना पड़ा। उपरोक्त भाग में जहर फैल जाने की स्थिति में इलाज हेतु आवश्यक दवा अट्रोपिन तथा दर्द निवारक दवा मॉर्फिन से संबंधित प्रश्न पूछे गए। बायोलॉजी का प्रश्न पत्र स्तरीय रहा। यहां एप्लीकेशन ऑफ नॉलेज से संबंधित काफी प्रश्न पूछे गए। एस्ट्रोनॉमी में एस्ट्रोनॉमी के अलावा फिजिक्स, मैथमेटिक्स से संबंधित प्रश्न भी थे।

आपत्तियों के लिए 27 नवम्बर आखिरी दिन
परीक्षा प्रश्न पत्रों पर ऑनलाइन आपत्तियां 27 नवम्बर तक दर्ज की जा सकती है। बाद में दर्ज की गई आपत्ति मान्य नहीं होगी। प्रश्न पत्र के हल तथा मानक उत्तर तालिकाओं के लिए विद्यार्थियों को 2 दिसंबर तक इंतजार करना होगा। इसके बाद मिनीमम ऐडमिसिबल स्कोर के आधार पर 20 दिसंबर को सफल विद्यार्थियों की सूची जारी कर दी जाएगी। ये सफल विद्यार्थी ओलंपियाड के द्वितीय चरण इंडियन नेशनल ओलंपियाड में भाग लेंगे।

Previous articleमहाराष्ट्र का महाभारत / आज सबकी निगाहें सुप्रीम कोर्ट पर, किसकी हार, किसकी जीत
Next articleहरे निशान में खुले बाजार, सेंसेक्स 95 अंक उछलकर 40,454 पर



source https://lendennews.com/archives/62722

0 comments:

Post a Comment

 
Top