Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

नई दिल्ली । प्याज की बढ़ती कीमतों के बीच आयकर विभाग ने महाराष्ट्र, दिल्ली और मध्य प्रदेश के कई ट्रेडर्स पर सर्वे ऑपरेशन कराए हैं। जूनियर वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर ने लोक सभा में जानकारी देते हुए कहा कि विभाग को खबर मिली थी कि ये ट्रेडर्स जालसाजी से प्याज के दामों में फेरबदल कर रहे हैं और कैश में खरीद-फरोख्त कर रहे हैं, जिससे उनके पास अवैध संपत्ति इकठ्‌ठा हाे रही है।

उन्होंने बताया कि इन जांच अभियानों से पता चला कि इनमें से अधिकतर ट्रेडर्स कई तरीके की मैलप्रैक्टिस करते पाए गए। इसमें टर्नओवर छुपाना, बही-खातों में फेरबदल, नकद बिक्री करना समेत कई चीजें शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इनकम टैक्स एक्ट के उल्लंघन के बारे में जानकारी मिलने पर टैक्स विभाग संबंधित मामलों में कानून के मुताबिक कदम उठाता है।

110 रुपए किलो बिक रहा प्याज
देश के प्रमुख शहरों में प्याज 75 से 100 रुपए किलो में बिक रहा है और इसी बीच महाराष्ट्र में कलवान कृषि उत्पाद विपणन समिति में हुई नीलामी में प्याज का भाव बढ़कर 11,000 रुपए प्रति क्विंटल तक पहुंच गया। यानी नासिक की थोक मंडी में प्रति किलो प्याज का दाम 110 रुपए के पार पहुंच गया है। साफ है खुदरा खरीदारों को और झटका लग सकता है। सोमवार को दिसंबर का पहला कारोबारी दिन था और नासिक जिले में गर्मियों की फसल के लिए होलसेल प्राइस सबसे ऊंचे स्तरों पर थी।

15 दिसंबर के बाद मिलेगी राहत
प्याज कारोबारियों के मुताबिक 15 दिसंबर से प्याज की नई फसल की आवक शुरू होने से बाद ही प्याज के दाम में राहत मिलेगी। अभी दिल्ली एवं आसपास के शहरों में राजस्थान से सबसे अधिक प्याज की आपूर्ति हो रही है। दिसंबर मध्य के बाद गुजरात, मध्य प्रदेश व महाराष्ट्र से नए प्याज की आवक शुरू हो जाएगी। बारिश की वजह से महाराष्ट्र में प्याज की फसल काफी अधिक मात्रा में बर्बाद हो गई है।

Previous articleपृथ्वी-2 मिसाइल का देर रात सफल परीक्षण, 1000 किग्रा युद्ध सामग्री ले जाने में सक्षम
Next articleपेट्रोल-डीजल नहीं, एक लीटर पानी में चलेगी 30 किमी गाड़ी, जानिए



source https://lendennews.com/archives/63205

0 comments:

Post a Comment

 
Top