Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बुधवार को बैंकों और कार्ड जारी करने वाली अन्य कंपनियों को निर्देश दिया कि वे अपने ग्राहकों को अपने डेबिट व क्रेडिट कार्ड को स्विच ऑन और ऑफ करने की सुविधा दें। साइबर फ्रॉड के बढ़ते मामलों को देखते हुए आरबीआई ने डिजिटल लेन-देन में सुरक्षा बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया उठाया है।

कार्ड के जरिये होने वाले भुगतान में भारी बढ़ोतरी हुई है। इसे देखते हुए आरबीआई ने यह भी निर्देश दिया कि फिजिकल या वर्चुअल सभी कार्ड को इश्यू या री-इश्यू करने के समय इसे सिर्फ कांटैक्ट आधारित प्वाइंट ऑफ यूज (एटीएम और प्वाइंट ऑफ सेल) पर उपयोग होने के लिए इनेबल किया जाए।

ट्रांजेक्शन को कर सकेंगे इनेबल
आरबीआई ने एक सर्कुलर में कहा कि कार्ड इश्यू करने वाली कंपनी या बैंक को अपने कार्डहोल्डर्स को कार्ड नॉट प्रजेंट (डोमेस्टिक एवं इंटरनेशनल) ट्रांजेक्शंस, कार्ड प्रजेंट (इंटरनेशनल) ट्रांजेक्शंस और कांटैक्टलेस ट्रांजेक्शन इनेबल करने की सुविधा देनी चाहिए।

Previous article'विज्ञापन चाहिए तो हमारी खबर दिखाओ' पर गहलोत को प्रेस कॉउंसिल का नोटिस
Next articleअमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर खत्म, डील के पहले चरण पर दस्तखत



source https://lendennews.com/archives/65704

0 comments:

Post a Comment

 
Top