Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

नई दिल्ली। बहुत जल्द सरकारी और प्राइवेट ऑफिस में आपको पांच मिनट का स्पेशल ब्रेक मिलने वाला है। इस ब्रेक का मकसद मानसिक रूप से तरोताजा रखना है ताकि कर्मचारी ज्यादा जोश के साथ काम कर सकें। इसे योग ब्रेक का नाम दिया गया है। आयुष मंत्रालय ने सोमवार को वाई-ब्रेक का परीक्षण शुरू किया।

मंत्रालय ने प्रतिष्ठित योग विशेषज्ञों के सुझाव और मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के साथ मिलकर यह कार्यक्रम विकसित किया है। अब ऑफिस की दिनचर्या में व्यायाम के लिए पांच मिनट का योगावकाश या योग ब्रेक शामिल किया जा सकता है।

15 संस्थानों ने वाई-ब्रेक के लिए हामी भरी
मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि टाटा केमिकल्स, ऐक्सिस बैंक, अर्न्स्ट ऐड यंग ग्लोबल कंसल्टिंग सर्विसेज जैसे कई कॉर्पोरेट घरानों सहित लगभग 15 संस्थानों ने इस कवायद में शामिल होने के लिए स्वेच्छा से हामी भरी है। इस योगावकाश में कुछ हल्के व्यायामों को शामिल किया जाता है जो पांच मिनट के दौरान आसानी से किए जा सकते हैं।

कई योग चिकित्सकों ने इसे तैयार किया
आयुष मंत्रालय ने पहले सरकारी संस्थानों और अन्य कॉर्पोरेट निकायों को अपने कर्मचारियों के लिए 30 मिनट का अनिवार्य योगभ्यास शुरू करने के लिए कहा था। एक अधिकारी ने कहा कि वाई-ब्रेक योग का कोई पाठ्यक्रम नहीं है बल्कि बहुत ही ब्रीफ इंट्रोडक्टरी मॉड्यूल है। इसे विकसित करने की प्रक्रिया लगभग तीन महीने पहले शुरू हुई थी तथा 10 प्रसिद्ध योग चिकित्सकों और विशेषज्ञों के एक मुख्य समूह ने इसे तैयार किया है।

Previous articleट्विटर से भी एक-दूसरे को भेज सकेंगे पैसे, ला रहा है अपना पेमेंट सिस्टम
Next articleऐमजॉन प्रमुख जेफ बेजोस भारत में, महात्मा गांधी को दी श्रद्धांजलि



source https://lendennews.com/archives/65638

0 comments:

Post a Comment

 
Top