Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

सीकर। ट्रांसपाेर्ट की गाड़ियाें काे राेके रखने और चालान भरने की धमकी देकर ट्रांसपाेर्ट व्यापारी से मंथली मांगने वाले सीजीएसटी संभाग सीकर के अधीक्षक व उसके दलाल काे शुक्रवार काे झुंझुनूं एसीबी की टीम ने गिरफ्तार कर लिया।

50 हजार रुपए की रिश्वत देने के लिए पहले ताे व्यापारी काे अधीक्षक ने अपने पाेलाे ग्राउंड स्थित फ्लैट पर बुलाया। इसके बाद दलाल काे रुपए देने की बात कही ताे दलाल व्यापारी काे लेकर उसकी ट्रांसपाेर्ट कंपनी के ऑफिस में ले गया और यहां 50 हजार रुपए लेते ही एसीबी ने उसकाे दबाेच लिया।

एसीबी झुंझुनूं के पुलिस निरीक्षक शब्बीर खान ने बताया कि 50 हजार रुपए की रिश्वत लेने के आरोप में सीजीएसटी संभाग सीकर के अधीक्षक अक्षय कुमार शर्मा तथा दलाल सुरेश स्वामी काे गिरफ्तार किया है। इनसे रिश्वत की राशि के 50 हजार रुपए भी बरामद कर लिए थे। दाेनाें आराेपियाें काे शनिवार काे जयपुर स्थित एसीबी काेर्ट में पेश किया जाएगा।

इससे पहले ट्रांसपाेर्ट व्यापारी व वार्ड संख्या के 50 के पार्षद माेहर सिंह गाैड़ ने ब्यूराे कार्यालय में लिखित शिकायत दर्ज करवाई थी। शिकायत में परिवादी का कहना था कि उसकी सुनील ट्रांसपाेर्ट कंपनी है। जिसका वह प्रोपराइटर है। उसकी कंपनी का माल दिल्ली, लुधियाना, अहमदाबाद, पानीपत, जयपुर आदि जगहाें से आता है।

अधीक्षक अक्षय कुमार जाे उसकी गाड़ियाें काे राेकता है और गाड़ियाें का चालान भरने की धमकी देकर मेरे ऊपर दबाव बना रहा है। वह मेरे से मार्च 2019 से अब तक के एक लाख रुपए की मंथली मांग रहा है। जिसका 24 जनवरी काे सत्यापन करवाया गया था।

सत्यापन में आराेपी ने मार्च 2019 से अब-तक के एक लाख रुपए की रिश्वत की मांग की। मांग के 50 हजार रुपए अपने दलाल सुरेश स्वामी काे दिलवाए। इस पर दाेनाें काे रंगे हाथाें गिरफ्तार कर रिश्वत की राशि काे बरामद कर लिया गया।

जयपुर स्थित मकान पर भी ली गई तलाशी
रिश्वत मामले में पकड़े गए सीजीएसटी संभाग सीकर के अधीक्षक अक्षय कुमार शर्मा के जयपुर स्थित मकान पर भी एसीबी ने तलाशी ली। तलाशी का काम देर रात तक जारी रहा।



source https://lendennews.com/archives/66526

0 comments:

Post a Comment

 
Top