Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

जयपुर। विद्युत विनियामक आयोग ने गुरुवार काे बिजली की नई दरें घोषित कीं। हालांकि, इन्हें लागू 1 फरवरी से ही माना जाएगा। मोटे तौर पर अगले माह मिलने वाले बिल 15 से 25% की बढ़ोतरी के साथ मिलेंगे। उपभोक्ताओं पर प्रति यूनिट 95 पैसे तक बढ़ाए गए हैं। फिक्स चार्ज भी 25 से 115 रु. प्रतिमाह तक बढ़ाया गया है। अब 151 से 300 यूनिट तक 6.40 रुपए प्रति यूनिट की जगह 7.35 रुपए चुकाने हाेंगे। फिक्स चार्ज भी 220 रु. प्रति माह की जगह 275 रु. प्रति माह किया है।

ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला ने दावा किया कि करीब 57% यानी 76 लाख उपभोक्ताओं पर इस वृद्धि का भार नहीं पड़ेगा। सरकार ने 50 यूनिट तक उपभोग वाले बीपीएल परिवारों को बिजली दर की वृद्धि से मुक्त रखा है। 20 लाख बीपीएल, 42 लाख छोटे घरेलू और 14 लाख किसानों पर बढ़ोतरी का 2469 करोड़ का भार सरकार उठाएगी। नई दरें तीनों डिस्काॅम जयपुर, जोधपुर और अजमेर में लागू होंगी। प्रदेश में 1.33 करोड़ उपभोक्ता हैं।

घरेलू उपभोक्ता

कैटेगरी पहले शुल्क फिक्स चार्ज अब शुल्क   फिक्स चार्ज मासिक
प्रथम 50 यूनिट पर 3.85 रु. यूनिट     100 रु.      4.75 रु.यूनिट     125 रु.
51 से 150 यूनिट तक     6.10 रु. यूनिट    . 200 रु.    6.50 रु. यूनिट     230 रु
151 से 300 यूनिट तक 6.40 रु. यूनिट  220 रु.  7.35 रु. यूनिट 275 रु.
301 से 500 यूनिट तक   6.70 रु. यूनिट   265 रु 7.65 रु. यूनिट 345 रु.
500 से अधिक यूनिट 7.15 रु. यूनिट  285 रु. 7.95 रु. यूनिट 400 रु.

बीपीएल व लघु कनेक्शन

कैटेगरी पहले शुल्क फिक्स चार्ज अब शुल्क फिक्स चार्ज मासिक
बीपीएल 50 यूनिट तक 3.50 रु. यूनिट 100 रु.  3.50 रु. यूनिट 100 रु. 
50 यूनिट लघु कनेक्शन    3.85 रु. यूनिट  100 रु.  3.85 रु. यूनिट    125 रु.

किसान : किसानों का भी फिक्स चार्ज 15 रु. से बढ़ाकर 30 रु. प्रति हॉर्स पावर किया। मीटर से एग्रीकल्चर की बिजली सप्लाई दर भी 4.75 रु. यूनिट से बढ़ाकर 5.55 रु. यूनिट, फ्लैट बिना मीटर वाले एग्रीकल्चर कनेक्शन की दर 635 रु. हॉर्स पावर प्रति माह से बढ़ाकर 745 रु. की है। हालांकि सरकार ने दावा किया है कि आयोग द्वारा किसानों पर की गई 2347 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी का समस्त भार सरकार उठाएगी।

उद्योग :

स्माल इंडस्ट्री 500 यूनिट तक    6.00 रु. यूनिट  65 रु. एचपी 6.00 रु. यूनिट 80 रु. एचपी
500 यूनिट से अधिक 6.45 रु. यूनिट 65 रु.एचपी 6.45 रु.यूनिट 110 रु. एचपी
Previous articleकिसी को प्रधानमंत्री बनना था, इसलिए हिंदुस्तान के नक्शे पर लकीर खींच दी गई : मोदी
Next articleकोटा / आढ़तिए ने फर्जी बिलों से कर डाली करोड़ों की GST चोरी



source https://lendennews.com/archives/66857

0 comments:

Post a Comment

 
Top