Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने कहा है कि पूर्वोत्तर के कुछ राज्यों को छोड़कर पूरे देश में जून, 2020 तक One Nation, One Ration Card योजना को लागू कर दिया जाएगा। इस योजना के तहत जॉब या अन्य वजहों से दूसरे राज्यों में जाने पर भी आपको रियायती दरों पर राशन सामग्री मिलती रहेगी। इससे करोड़ों लोगों को फायदा होने की उम्मीद है।

कई राज्यों में पहले ही यह स्कीम लागू हो चुकी है। इस योजना के तहत लाभार्थियों की पहचान आधार या बायोमैट्रिक सत्यापन के जरिए होनी है। अगर आप भी सब्सिडी वाली राशन सामग्री खरीदना चाहते हैं तो आपको समय रहते अपने राशन कार्ड और आधार कार्ड को लिंक करा लेना चाहिए।

Ration Card-Aadhaar Linking की प्रक्रिया
ऐसे में सवाल उठता है कि राशन कार्ड और आधार कार्ड को लिंक करने की प्रक्रिया क्या है। यह बहुत ही सरल प्रक्रिया है। आइए जानते हैं आधार कार्ड जारी करने वाली संस्था UIDAI के मुताबिक राशन कार्ड और आधार नंबर को लिंक करने की प्रक्रिया क्या है:

  • अपने परिवार के सदस्यों के आधार कार्ड एवं राशन कार्ड की फोटोकॉपी करा लें।
  • अगर आपका बैंक अकाउंट और आधार कार्ड लिंक नहीं है तो बैंक के पासबुक की भी एक फोटोकॉपी ले लें।
  • परिवार के मुखिया का पासपोर्ट साइज का एक फोटो भी ले लीजिए और इन दस्तावेजों को PDS यानी की राशन की दुकान पर जमा करा दीजिए।
  • PDS दुकानदार आपको फिंगरप्रिंट आईडी को सत्यापित करने के लिए कह सकता है।
  • संबंधित विभाग तक दस्तावेज पहुंचने के बाद आपको SMS या ईमेल से सूचित किया जाता है।
  • Ration Card-Aadhaar Linking की प्रक्रिया पूरी होने के बाद आपको SMS के जरिए सूचना मिल जाती है।

इन दोनों दस्तावेजों को लिंक कराने का उद्देश्य
Ration Card-Aadhaar Link के जरिए सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि एक व्यक्ति के पास एक ही राशन कार्ड हो। इससे सरकार वैसे लोगों को भी चिह्नित कर सकेगी, जिनकी आय पीडीएस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए जरूरी अनिवार्यता से ज्यादा है। इससे अधिक-से-अधिक पात्र लोगों तक इस सुविधा का लाभ पहुंचाने में मदद मिलेगी।

Previous article80% करदाता अपना सकते हैं नई कर व्यवस्था: वित्त मंत्रालय
Next articleWhatsApp Pay जल्द ही भारत में होगा लॉन्च



source https://lendennews.com/archives/66956

0 comments:

Post a Comment

 
Top