Menu

कमाइए 30000रुपये हर महीने करे, 100% working!

नई दिल्ली। बैंक ऑफ बड़ौदा ने लोन की मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड ब्याज दरों (एमसीएलआर) में 5 से 10 बेसिस प्वाइंट यानी 0.05% से 0.10% तक कमी की है। बैंक का एक साल का एमसीएलआर अब 8.25% की बजाय 8.15% होगा। नई दरें 12 फरवरी से लागू होंगी। इससे नए ग्राहकों के लिए होम, ऑटो और दूसरे लोन सस्ते हो जाएंगे। एक महीने के एमसीएलआर में 0.05% कमी की गई है।

आरबीआई ने पिछले साल रेपो रेट में लगातार 5 बार कमी करते हुए कुल 1.35% कटौती की थी, लेकिन बैंकों ने ग्राहकों को उतना फायदा नहीं दिया। इसलिए, आरबीआई ने 1 अक्टूबर से ब्याज दरों को रेपो रेट जैसे बाहरी बेंचमार्क से जोड़ना अनिवार्य कर दिया था।

ताकि, आरबीआई रेट घटाए तो बैंकों को भी तुरंत कटौती करनी पड़े और ग्राहकों को जल्द फायदा मिल जाए। बैंकों ने ब्याज दरें रेपो रेट से तो जोड़ दीं, लेकिन एमसीएलआर की व्यवस्था भी बरकरार रखी है। पिछले हफ्ते एसबीआई ने भी एमसीएलआर में 0.05% की कमी की थी। एसबीआई की नई दरें लागू हो चुकी हैं।

रेपो रेट वाले ग्राहकों को नहीं मिलेगा
रेपो रेट से लिंक लोन की व्यवस्था में आरबीआई के रेपो रेट घटाने पर ग्राहकों को तुरंत तो नहीं लेकिन जल्द फायदा मिल जाता है। प्रमुख बैंक रेपो रेट वाले कर्ज की ब्याज दरों को तीन महीने में रीसेट करते हैं। जबकि, एमसीएलआर वाले ज्यादातर कर्ज की रीसेट डेट में एक साल का अंतराल होता है। हालांकि, नए ग्राहकों को तुरंत फायदा मिल जाता है।



source https://lendennews.com/archives/67051

0 comments:

Post a Comment

 
Top